जानिए कौन हैं देश की सबसे अमीर महिला रोशनी नाडर…

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

शुक्रवार को एचसीएल टेक्नोलॉजी के संस्थापक और चेयरमैन शिव नाडर(Shiv Nadar) ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया. जिसके बाद रोशनी नाडर(Roshni Nadar) अब कंपनी की नई चेयरमैन बन गई है. इसी के साथ रोशनी नाडर किसी भारतीय आईटी कंपनी का नेतृत्व करने वाली पहली महिला और भारत की सबसे अमीर महिला भी बन गई है. कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने ही रोशनी नाडर को कंपनी का चेयरमैन नियुक्त किया हैं. शिव नाडर ने एचसीएल टेक्नोलॉजी की नींव वर्ष 1976 में रखी थी. वर्तमान समय में एचसीएल टेक्नोलॉजी 9.9 अरब डॉलर की कंपनी है.

शुरुआती जीवन

रोशनी नाडर का पालन – पोषण दिल्ली में हुआ है. उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा दिल्ली के वसंत वैली से की  है. उच्च शिक्षा के लिए रोशनी ने विदेश का रुख किया. उन्होंने अमेरिका नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी से कम्युनिकेशन की पढ़ाई की है. और बिजनेस एडमिनिस्ट्रशन में मॉस्टर्स  केलॉग स्कूल ऑफ मैनेजमेंट से किया है. 

निजी जीवन

रोशनी शिव नाडर की इकलौती संतान है. रोशनी शादीशुदा है और दो बच्चों की माँ है. रोशनी के पति शिखर मल्होत्रा भी एचसीएल टेक्नोलॉजी के बोर्ड सदस्य और एचसीएल कॉर्पोरेशन के एक्जक्यूटिक डायेक्टर है.

यह भी पढ़ें : कांग्रेस में राहुल गाँधी को बर्दाश्त कर पाना कठिन होने  लगा है?

करियर की शुरुआत

रोशनी ने अपने करियर की शुरुआत लंदन के स्काई न्यूज में एक न्यूज प्रोड्यूसर के तौर पर की थी. इसके बाद भारत आकर रोशनी ने 2009 में एचसीएल कॉर्पोरेशन कंपनी को ज्वॉइन कर लिया था और एक साल के भीतर ही वह एचसीएल कॉर्पोरेशन कंपनी की सीईओ और एक्जक्यूटिक डायेक्टर बन गई थी. 2013 में, कंपनी को ज्वॉइन करने के चार साल बाद रोशनी नाडर एचसीएल टेक्नोलॉजी की बोर्ड की सदस्य बन गई थी. एचसीएल टेक्नोलॉजी की चेयरमैन बनने से पहले वह इस कंपनी की वाइस – चेयरमैन थी.

रोशनी नाडर के अन्य ऑर्गेनाइजेशन

रोशनी नाडर ने 2018 में वाइल्ड लाइफ से संबंधित द हैबिटेट ट्रस्ट की शुरुआत की थी. इस  ट्रस्ट का काम पर्यावरण संरक्षण और जैव – विविधता को संरक्षण प्रदान करना है. इसके अलावा रोशनी शिव नाडर फाउंडेशन की ट्रस्टी है. यह फाउंडेशन देश के टॉप कॉलेज और स्कूलों की शिक्षा पर कार्य करता है.रोशनी उत्तर प्रदेश में स्थित संस्था विद्या – ज्ञान की भी चेयरपर्सन है. यह संस्था आर्थिक रुप से कमजोर और ग्रामीण परिवेश से आने वाले विद्यार्थियों के लिए काम करती हैं. 

यह भी पढ़ें : दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग की रिपोर्ट ने दिल्ली दंगों में पुलिस की भूमिका पर उठाए गंभीर सवाल

रोशनी नाडर की अन्य उपलब्धियां

लगातार पिछले तीन सालों से रोशनी नाडर का नाम फोर्ब्स मैगजीन में दुनिया की सबसे ताकतवर महिलाओं की सूची में शामिल है. 2019 की फोर्ब्स मैगजीन के अनुसार, रोशनी नाडर को 54वीं दुनिया की सबसे ताकतवर महिला के रुप में चुना गया था. एचसीएल में करियर की शुरुआत में रोशनी को होरासिस के द्वारा इंडियन बिजनेस लीडर के अवॉर्ड से नवाजा गया था.

इसके अलावा बॉबसन कॉलेज ने लुइस इंस्टीट्यूट कम्यूनिटी चेंजमेकर अवॉर्ड और वर्ल्ड समिट ऑन इनोवेशन एंड एंट्रेप्रेंयूर्शिप की ओर से वर्ल्ड मोस्ट इनोवेटिव पीपुल अवॉर्ड से रोशनी को सम्मानित किया गया था. साल 2019 में हुरुन रिच लिस्ट ने उन्हें 36,800 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ देश की सबसे अमीर महिला चुना था.

Written By Kirti Rawat, She is Journalism graduate from Indian Institute of Mass Communication New Delhi

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।