इंडियन रेलवे ने Train Ticket Reservation Chart से जुड़ा ये बड़ा नियम बदल दिया

भारतीय रेलवे ने फिर शुरू की ये 80 ट्रेनें, यात्रा से पहले यहां पढ़िये सारे नियम

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

भारतीय रेलवे ने 12 सितंबर से 40 जोड़ी अतिरिक्त स्पेशल ट्रेनों का परिचालन शुरू कर दिया है। इनके लिए शुक्रवार से तत्काल टिकटों की बुकिंग भी शुरू हो चुकी है। ये 80 ट्रेनें पहले से चल रही 30 स्पेशल राजधानी और 200 स्पेशल मेल एक्सप्रेस ट्रेनों से अलग हैं। इन ट्रेनों के परिचालन शुरू होने के बाद देश में चलने वाली कुल ट्रेनों की संख्या 310 तक पहुंच गई है।

इस मामले में रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वी. के. यादव ने बताया कि इन ट्रेनों की निगरानी कर पता लगाया जा रहा है कि किन ट्रेनों में वेटिंग लिस्ट लंबी है। इंडियन रेलवे द्वारा शुरू की गई 80 ट्रेनों के रूट, बुकिंग डिटेल्स व अन्य जानकारियां यहां डिटेल में समझ लें ताकि भविष्य में कोई दिक्कत का सामना न करना पड़े।

Kanpur Central: कानपुर रेलवे स्टेशन पर कैसे रोज़ाना हज़ारो लीटर पानी हो रहा है बर्बाद : देखें

  • इन ट्रेनों में यात्रा करने वालों को रेलवे स्टेशन पर कम से कम 90 मिनट पहले पहुंचना होगा।
  • रेलवे स्टेशन पर सभी यात्रियों की स्क्रीनिंग की जाएगी।
  • अगर किसी भी यात्री में कोरोना के लक्षण दिखाई देते हैं तो उस यात्री को ट्रेवल करने की अनुमति नहीं मिलेगी।

पार्सल गाड़ियों को किराये पर देने के लिए तैयार भारतीय रेलवे, रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कही ये बात

  • इन 40 जोड़ी ट्रेनों में से जो ट्रेनें राजधानी दिल्ली से चलेंगी, उनके नंबर हैं- 02482, 02572, 02368, 02416, 02466, 02276, 02436, 02430, 02562, 02628, 02616, 02004
  • यात्रियों को अपने मोबाइल पर आरोग्य सेतु ऐप इंस्टॉल करना होगा।
  • कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए, भारतीय रेलवे यात्रियों को तकिए, कंबल, पर्दे जैसी चीजें उपलब्ध नहीं करा रहा है।

भारतीय रेलवे: यूपी-बिहार के लिए बढ़ाई जा सकती हैं स्पेशल ट्रेनें

  • कोरोना वायरस महामारी खत्म होने के बाद जब हालात सामान्य होंगे और ट्रेन सेवाएं पहले की तरह सामान्य स्थिति में शुरू होंगी तब भी भारतीय रेलवे एसी कोच में यात्रा कर रहे यात्रियों को तकिए, कंबल, चादर, तौलिए और अन्य लिनेन की चीजें उपलब्ध नहीं कराएगा।
  • फिलहाल यात्रा के दौरान ट्रेन में पका हुआ भोजन नहीं परोसा जा रहा है। इस समय सिर्फ पैक्ड फूड दिया जा रहा है।

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups.