Home » म्यांमार की नौसेना को भारत सौंपने जा रहा ये सबसे घातक हथियार !

म्यांमार की नौसेना को भारत सौंपने जा रहा ये सबसे घातक हथियार !

म्यांमार की नौसेना को भारत सौंपने जा रहा ये सबसे घातक हथियार !
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

भारतीय विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को एक प्रेसवार्ता के दौरान मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने भारत-अमेरिका वार्ता, विदेशी राजनयिकों के लिए सुषमा स्वराज लेक्चर्स की लॉन्चिंग और देश के अंदरूनी मामलों में पाकिस्तान के दखल और भारत द्वारा म्यांमार की नौसेना को पनडुब्बी दिए जाने जैसे मुद्दों पर जानकारी दी।

मंत्रालय की प्रेसवार्ता के  प्रमुख बिंदु

श्रीवास्तव ने बताया कि उक्त पाक अधिकारी को सलाह दी गई है कि अपनी सलाह को अपनी सरकार तक रखें और भारत की घरेलू नीतियों पर टिप्पणी करने से बचें। उनने बयान काल्पनिक, गुमराह करने वाले और तथ्यों से परे हैं।

सीमा पर निर्माण को लेकर चीन की टिप्पणी पर श्रीवास्तव ने कहा कि सरकार लोगों की आजीविका बेहतर बनाने के लिए और उनके आर्थिक लाभ के लिए बुनियादी ढांचे के निर्माण पर ध्यान केंद्रित कर रही है। सरकार आर्थिक विकास, भारत की सुरक्षा और सामरिक आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए सीमावर्ती क्षेत्रों के विकास पर विशेष ध्यान देती है।

READ:  Best Mask for Coronavirus: कपड़े का या N95 मास्क, कोरोना से रक्षा के लिए देखें कौन सा मास्क है जरूरी

चुनाव चिन्ह कैसे किए जाते हैं आवंटित? समझें सारा गणित..

भारत और अमेरिका के बीच प्रस्तावित 2+2 वार्ता को लेकर मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि हम इसे जल्द से जल्द आयोजित कराना चाहते हैं। हम प्रयास कर रहे हैं कि इस वार्ता का आयोजन नई दिल्ली में हो।

श्रीवास्तव ने कहा कि केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख और जम्मू-कश्मीर भारत के अखंड भाग थे, हैं और रहेंगे। चीन को भारत के आंतरिक मामलों पर टिप्पणी करने का कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि अरुणाचल प्रदेश भी भारत का अभिन्न हिस्सा है। इस तथ्य को उच्चतम स्तर समेत कई मौकों पर चीन के सामने स्पष्ट किया जा चुका है।

READ:  Covid19 Vaccination: 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों को लगेगा Coronavirus का टीका

प्रवक्ता ने कहा कि हमने पाकिस्तान के एक वरिष्ठ अधिकारी के साक्षात्कार की रिपोर्ट देखी हैं और उन्होंने भारत के आंतरिक मामलों पर टिप्पणी की। हमेशा की तरह पाकिस्तान घरेलू नाकामियों को छिपाने के लिए और अपनी जनता को गुमराह करने के लिए भारत का नाम ले रहा है।

जनधन खाते से ज़ीरो बैलेंस के बावजूद आपको मिले सकते हैं 5000 रुपए, जानिए इसका पूरा प्रोसेस..

अनुराग श्रीवास्तव ने कहा, दिल्ली में नियुक्त विदेशी राजनयिकों को लिए तैयार किए गए सुषमा स्वराज लेक्चर का पहला संस्करण आज लॉन्च किया गया। इस संस्करण में 45 विदेशी राजनयिक शामिल हो रहे हैं।

मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि भारत म्यांमार की नौसेना को किलो वर्ग की एक पनडुब्बी आईएनएस सिंधुवीर देगा। यह म्यांमार नौसेना की पहली पनडुब्बी होगी। 

READ:  ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने में कारगर है Proning, ऐसे करें ये क्रिया

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।