LAC Situation india china fress standoff

भारत-चीन के संबंध ‘जटिल स्थिति’ में, फिल्हाल LAC पर पीछे हटने को तैयार दोनों देश

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

चीन के विदेश मंत्री वांग यी और भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकर अजीत डोभाल के बीच रविवार को हुई बातचीत के बाद भारत-चीन के बीच लंबे समय से जारी तनाव कम हुआ। पूर्वी लद्दाख में भारत से तनातनी के बीच नरमी के संकेत देते हुए चीन ने कहा कि वास्तविक नियंत्रण रेखा पर सैनिकों को हटाने के लिए सहमति बनी है और इसे जल्द से जल्द लागू किया जाना चाहिए।

विदेश मंत्रालय ने बताया कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकर अजीत डोभाल और चीन के विदेश मंत्री वांग यी के बीच रविवार को फोन पर बातचीत हुई। उन दोनों ने बातचीत के दौरान भारत-चीन सीमाई इलाकों के वेस्टर्न सेक्टर में हाल के दिनों में हुए विवाद पर गहरी और खुलकर चर्चा की। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकर अजीत डोभाल और चीन के विदेश मंत्री वांग यी के बीच करीब 2 घंटे लंबी वीडियो कॉल पर बातचीत हुई। इस दौरान भारत और चीन के बीच इस बात पर सहमति बनी है कि वास्तविक नियंत्रण रेखा पर तनाव जल्द खत्म करने के साथ ही विवादित सीमा क्षेत्र में ऐसी कोई एकतरफा कार्रवाई नहीं होगी, जिससे वास्तुस्थित बदल सके। भारतीय विदेश मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी।

भारत और चीन के बीच पिछले महीने लद्दाख के गलवान घाटी में हुई सैन्य हिंसा में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे जबकि चीनी सैनिकों को भारी नुकसान उठाना पड़ा था। तभी से भारत और चीन के बीच तनाव चरम पर था। सूत्रों के मुताबिक अब चीन और भारतीय सेना ने पीछे हटना शुरु कर दिया है।

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।