Home » ICMR ने बताए कोरोना की तीसरी लहर में लॉकडाउन से बचने के 3 तरीके

ICMR ने बताए कोरोना की तीसरी लहर में लॉकडाउन से बचने के 3 तरीके

ICMR
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

ICMR: कोरोना महामारी की वजह से लगे लॉकडाउन से आप काफी परेशान हो गए होंगे। लेकिन यह अभी गयी नहीं है। कोरोना की दूसरी लहर के बाद अब तीसरी लहर भी भारत में  आ गयी जो बच्चों पर अपना कहर ढाह रही है। लेकिन कई राज्यों कों धीरे-धीरे अनलॉक किया जा रहा है। ऐसे में लॉकडाउन से कैसे छुटकारा मिल सकता है इसका सुझाव ICMR के महानिदेशक डॉ बलराम भार्गव ने बताया है। इसके लिए उन्होंने तीन अहम बातों का जिक्र किया।

पॉजिटिविटी रेट हो 5 फीसदी से कम

ICMR के डॉ भार्गव ने बताया कि जिस भी शहर का लॉकडाउन खोला जाए, उस शहर में पिछले सात दिनों में टेस्ट पॉजिटिविटी रेट 5 फीसदी से कम होना चाहिए। उसके साथ ही 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन लगी होनी चाहिए। फिर 45 साल से ज्यादा उम्र के उन लोगों में से जिन्हें कोई दूसरी गंभीर बीमारी भी है उनमें से 70 पर्सेंट से भी ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगी होनी चाहिए। यह हमारे लिए ही बहुत जरूरी है। इसके अलावा कम्युनिटी को भी अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी।

READ:  SAARC meeting cancelled : तालिबानी नेताओं को सार्क की मीटिंग में शामिल कराना चाहता था पाक, भारत समेत कई देशों ने जताया विरोध

कहीं कोई कैमरा शवों की गिनती न कर ले इसलिए शवों से चुनरी और लकड़ियां हटा रही योगी सरकार: Srinivas

दिसंबर तक पूरे वैक्सिनेशन की उम्मीद

लोगों को वैक्सीन के लिए पेशेंस रखने की जरूरत है। डॉ भार्गव ने कहा कि भारत दुनिया के उन 5 देशों में से एक है जो वैक्सीन बना रहे हैं उसका उत्पादन भरपूर मात्रा में करने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने यह भी बताया की भारत में जितनी डोज़ दी गयी हैं उतनी ही अमेरिका में भी दी गयी हैं। लेकिन कमी का कारण है हमारे देश की आबादी। भारत की जनसंख्या अमेरिका से 4 गुना ज्यादा है। जुलाई-अगस्त तक हमारे पास पर्याप्त वैक्सीन उपलब्ध होगी। हमारा मकसद है कि दिसंबर तक किसी भी हाल में सबका वैक्सिनेशन पूरा हो जाये और वो हम कर देंगे।

गांव में फैलता कोरोना: शुरुआती लापरवाही बनी मुसीबत

2,02,10,889 लोगों को लग चुकी है पहली डोज

सेंट्रल हेल्थ मिनिस्ट्री ने बताया कि देश में अब तक कोविड-19 वैक्‍सीन की 21.58 करोड़ से ज्‍यादा डोज लग चुकी हैं। जिनमें 18-44 साल की उम्र के 12,23,596 लोगों को वैक्‍सीन की पहली डोज लगाई गई है, और 13,402 लोगों को दूसरी डोज भी मिल चुकी है। भारत में वैक्‍सीनेशन का तीसरे चरण भी शुरू कर दिया गया है। तीसरे चरण में जहां अब तक 2,02,10,889 लोगों को कोविड-19 वैक्‍सीन की पहली डोज लगी है वहीं, 23,491 लोगों ने दूसरी डोज भी लग चुकी। सरकार ने कहा है हमारी तरफ से पूरी कोशिश है जल्द से जल्द हम अपने भारत को कोरोना मुक्त भारत बनाए।

READ:  Punjab CM Amrinder Singh : कुप्रबंधन की शिकार कांग्रेस के पंजाब और देश में क्या हैं मायने ? क्या कैप्टन अमरिंदर सिंह की जगह भर पायेगा पंजाब ?

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।