Home » Corona In Delhi : दिल्ली में कोरोना से राहत, पहले से काफी कम हुई संक्रमितों की संख्या

Corona In Delhi : दिल्ली में कोरोना से राहत, पहले से काफी कम हुई संक्रमितों की संख्या

Corona इलाज में कनपुरियों ने बहाया पैसा; 50 दिन में निकाले 20000 करोड़ रूपए
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Corona In Delhi :देश में एक ओर कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। वही दूसरी ओर भारत का एक ऐसा राज्य जहां कोरोना संक्रमितो की संख्या कम होती दिखाई पड़ रही है। जी हां हम बात कर रहे है Corona In Delhi भारत के दिल्ली( Delhi )राज्य की जहां कोरोना के मरीजों ( Corona updates ) स्थिति में सुधार देखने को मिल रहा है।

Corona संक्रमित लोगों की भीड़ Delhi के अस्पतालों के बाहर हो रही है कम

दिल्ली में कोरोना संक्रमितो की दर 25% कम होती दिखाई पड़ रही है। वन्हा कोरोना के नए मामले कम और कोरोना से ठीक हो रहे मरीजों की संख्या बढ़ रही है। गुरुवार को Delhi स्वास्थ्य विभाग ने बताया की पिछले कुछ दिनों में 78780 लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया। जिनमे से 19133 लोग कोरोना(corona) संक्रमित पाए गए , और ठीक होने की दर ज्यादा। अबतक 12 लाख लोग पॉजिटिव पाए गए। जिनमे से 18398 लोगों की जान भी जा चुकी है। वही 11 लाख लोग ठीक भी हुए है। दिल्ली में टीकाकरण भी ज्यादा से ज्यादा लोगों को लगाया जा रहा है।

जैन धर्म के खिलाफ Anoop Mandal ने क्या जहर उगला था, जिससे भड़क उठा पूरा जैन समूदाय

Covid In Delhi बेड की शॉर्टेज कम होती जा रही।

दिल्ली के कई अस्पतालों में हजार से ज्यादा बेड खाली पड़े हुए है। कोरोना (Corona २०२१ ) के बढ़ते मरीजों की संख्या को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने 14 निजी अस्पतालों को कोविड सेंटर घोषित किया था। 19 निजी अस्पतालों में 80 फीसदी बेड घोषित किए गए थे। जन्हा अभी तक 7778 बेड भरे हुए है वही पांच हजार से ज्यादा बेड अभी भी सरकारी अस्पताल में कोविड के मरीजों के लिए खाली हैं।

READ:  Mu variant of covid-19 found in 39 countries, how dangerous it is?

Covid के मरीजों के लिए आईसीयू बेड की कमी अब भी बरकार।

दिल्ली के क्रिटिकल केयर वाले 125 अस्पातलों में से 88 अस्पताल ऐसे है जहां आईसीयू वाले बेड की कमी देखने को मिल रही है। कोविड 19 से संक्रमित लोगों से 3,535 आईसीयू बेड भरे हुए है। वही दूसरी ओर द्वीप चंद बंधु अस्पताल में, 75 बेड सभी भरे हुए है,और राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में, 450 में से सिर्फ 47 आईसीयू बेड ही कोरोना के मरीजों के लिए उपलब्ध कराए गए है।

CORONA IN VILLAGES: कोरोना से कराह रहे गांव, आ रही हैं मौत की ख़बरें

ऑक्सीजन सप्लाई की स्थिति में सुधार।

दिल्ली के मायापुरी इंडस्ट्रियल एरिया में एक ऑक्सीजन प्लांट है। वहा पर ऑक्सीजन की फीलिंग के साथ साथ लोगों को मुफ्त में ऑक्सीजन सिलेंडर मुहैया कराती है।अब तक 50 अस्पतालों में फ्री ऑक्सीजन मुहैया कराया गया है।

ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए कोर्ट ने केंद्र सरकार को निर्देशित किया।

अगले एक सप्ताह में स्थिति सुधरने का अनुमान।

कोरोना के मरीजों में सुधार देखते हुए ऐसे कयास लगाए जा रहे है की आगे आने वाले कुछ सप्ताह में कोरोना संक्रमण की दर कम हो सकती है।ऑक्सीजन की कमी से हो रही लोगों मौतों में भी कमी देखने को मिल सकती है।

READ:  मानसून की बेरुखी से किसान परेशान, अब तो सूखने लगी है ज़मीन

दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी से हो रही लोगों की मौत के चलते सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को रोज 700 मिट्रिक टन ऑक्सीजन सप्लाई करने का आदेश दिया। उन्होंने ये भी कहा की यदि ऐसा नहीं किया गया तो केंद्र सरकार पर कड़ी से कड़ी करवाई की जाएगी। वही अरविंद केजरीवाल ने कहा की ऑक्सीजन की कमी पूरी होने से है ज्यादा से ज्यादा बेड की सुविधा कोरोना के मरीजों के लिए सुनिचिति कर पाएंगे।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।