Hockey World Cup 2018 : Belgium vs Netherlands Belgium WON THE FINAL MATCH CREATS HISTORY

पहली बार हॉकी वर्ल्ड कप पर कब्जा कर बेल्जियम ने रचा इतिहास

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

आयुष ओझा

बेल्जियम ने रविवार को हॉकी विश्व कप 2018 के फाइनल में इतिहास रच दिया। ओडिशा के कलिंगा स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में बेल्जियम ने बेहद रोमांचक मुकाबले में शूटआउट में नीदरलैंड को 3-2 से हराकर हॉकी विश्व कप 2018 का खिताब अपने नाम कर लिया।

दोनों टीमों के बीच उम्मीद के मुताबिक बेहद रोमांचक मुकाबला देखने को मिला। बेल्जियम और नीदरलैंड के चारों क्वार्टर में किसी भी टीम को गोल करने का मौका नहीं मिला। इसके बाद मुकाबला शूटआउट में गया, जहां बेल्जियम ने नीदरलैंड को 3-2 से हराकर रोमांच जीत दर्ज की।

बेल्जियम विश्व चैंपियन बनी, वहीं, नीदरलैंड को सिल्वर मेडल से ही संतोष करना पड़ा। जबकि गत विजेता ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को हराकर कांस्य पदक पर अपना कब्जा जमाया। बता दें कि इससे पहले सेमीफाइनल में नीदरलैंड ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी।

फाइनल मुकाबले में बेल्जियम की तरफ से विनसेंट वनाश को मैन ऑफ द मैच से नावाजा गया। जबकि कुछ अन्य अवॉर्ड इस तरह रहे-

  • भारत के मनप्रीत सिंह को बेस्ट सेलिब्रेशन अवार्ड से नवाजा गया।
  •  प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट अर्थर वन डोरेन को चुना गया।
  • बेस्ट गोलकीपर का अवार्ड नीदरलैंड के गोलकीपर पिरमिन बलाक को मिला।
  •  गोल स्कोरर ऑफ द टूर्नामेंट बेल्जियम के हैंड्रिक्स और ऑस्ट्रेलिया के बलाक गोवर्स को दिया गया।

इसके अतिरिक्त विश्व की तीसरे नंबर की टीम बेल्जियम ने अपने से चार पायदान नीचे इंग्लैड को हॉकी विश्व कप के बेहद एकतरफा सेमीफाइनल मुकाबले में 6-0 से करारी शिकस्त देकर फाइनल में अपनी जगह पक्की की थी। बेल्जियम ने पहली बार हॉकी विश्व कप के फाइनल में जगह बनाई थी और अब फाइनल जीतकर इतिहास रच दिया।

वहीं, दूसरी तरफ नीदरलैंड की टीम ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर ऑस्ट्रेलिया का कुल चौथी और लगातार तीसरी बार खिताब जीतने का सपना तोड़ दिया जिस वजह से उन्हें तीसरे स्थान से ही संतोष करना पड़ा, जबकि नीदरलैंड चार बार खिताब जीतने के पाकिस्तान के रिकॉर्ड की बराबरी करने से एक जीत दूर रह गया।

आपको बता दे कि अंतिम बार भी नीदरलैंड उपविजेता था। जबकि भारत का सफर इस टूर्नामेंट में क्वार्टर फाइनल से आगे नहीं बढ़ पाया जब उसे नीदरलैंड ने 2-1 से करारी शिकस्त दी थी।