चुनाव में खेत में उतरकर फसल काटने वाली हेमा मालिनी, लॉकडाउन में मज़दूरों का बोझा उठाते दिखीं क्या?

Where is Hema Malini In Lockdown?
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

चुनाव के दौरान खेतों की जुताई करने वाली, हैंडपंप से पानी भरने वाली सांसद हेमा (Hema Malini) आज अपने लोकसभा क्षेत्र की जनता के लिए क्या कर रही हैं ?

Ground Report | News Desk

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के टिकट पर 2019 के लोकसभा चुनाव में कई फिल्मी सितारे और कलाकार चुनाव जीतने के बाद संसद पहुंचे । इन्हीं फिल्मी सितारों में से सिनेमा जगत की एक अदाकारा और उत्तर प्रदेश के मथुरा से भाजपा की सांसद हेमा मालिनी भी हैं । कोरावायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने लिए जब सरकार ने देशव्यापी लॉकडाउन का फैसला लिया तो इसका सबसे बुरा असर देशभर के प्रवासी मज़दूरों पर हुआ ।

लॉकडाउन में हेमा एक ट्वीट के सिवा कुछ और करती नहीं दिखाई दी

लॉकडाउन के कारण शहरों में मज़दूरी कर अपना पेट पालने वाले मज़दूर जब शहरों को छोड़ अपने-अपने घरों के लिए सैकड़ो किलोमीटर पैदल चलकर लौट रहे थे तब उनकी मदद को कोई नेता न दिखाई दिया । एक रिपोर्ट के मुताबिक लॉकडाउन में शहरों से अपने गांव को लौटने वाले यूपी-बिहार के ही सबसे अधिक लोग हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार लगभग तीन महीनों से जारी इस लॉकडाउन के कारण अबतक 400 से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं, जिसमें सबसे अधिक मौतें प्रवासी मज़दूरी की हैं।

READ:  Lockdown Again: दूसरी लहर का कहर, तो क्या फिर लगेगा लॉकडाउन?

अब बात यूपी के मथुरा से लगातार दो बार लोकसभा चुनाव जीतने वाली सांसद हेमा मालिनी की । मिली जानकारी के मुताबिक जब लॉकडाउन लगा तो सांसद हेमा मुंबई में ही थी । 11 मई को वह अपने निर्वाचन क्षेत्र और उत्तर प्रदेश के प्रवासियों के मुद्दे पर महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलीं। उन्होंने कहा कि वह वहां से राहत अभियान चला रही हैं। वह फोन और वीडियो-कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनता के साथ बातचीत करती है और फिर प्रशासन से उनकी समस्याओं को हल करने के लिए कहती है।

READ:  Lockdown Again: दूसरी लहर का कहर, तो क्या फिर लगेगा लॉकडाउन?

सांसद हेमा ने मुंबई से मथुरा पैदल आ रहे मज़दूरों की कोई मदद की ?

लॉकडाउन के बाद जब हज़ारों-लाखों मज़दूर पैदल ही मुंबई से यूपी के लिए निकले तो क्या सांसद हेमा ने उनके खाने की कोई व्यवस्था की ? मीडिया रिपोर्टस के अनुसार मुंबई से सैकड़ो लोग सांसद हेमा के क्षेत्र मथुरा से भी थे । क्या महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलने के बाद सांसद हेमा को मदद करते देखा गया ? सच तो ये है कि पूरे लॉकडाउन में हेमा एक ट्वीट के सिवा कुछ और करती नहीं दिखाई दी ।

क्या इस मुश्किल घड़ी में सासंद हेमा को अपने लोकसभा क्षेत्र में नहीं होना चाहिए था ? मथुरा की जनता के लिए क्या सासंद ने कोई रीलीफ पैकेज दिया है ? अब लॉकडाउन के लगभग तीन महीने हो रहे हैं मगर हेमा अभी भी मुंबई से नहीं लौटीं । चुनाव के दौरान खेतों की जुताई करने वाली, हैंडपंप से पानी भरने वाली सांसद हेमा आज अपने लोकसभा क्षेत्र की जनता के लिए क्या कर रही हैं ?

READ:  Lockdown Again: दूसरी लहर का कहर, तो क्या फिर लगेगा लॉकडाउन?

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।