पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी के कहा- दिल्ली हिंसा पूरी तरह से सुनियोजित थी

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

तीन दिनों तक दंगों की आँच में झुलसने के बाद दिल्ली धीरे धीरे सामान्य हो रही है और उम्मीद है कि अगले कुछ ही दिनों मे ज़िंदगी पटरी पर आ जायेगी पर बहुत से ऐसे प्रश्न छोड़ जायेगी जिनके हल ढूंढना इसलिए भी आवश्यक है कि ये अनुभव दोहरायें न जायें।  पुलिस बल की भारी तैनाती के बीच धीरे धीरे जनजीवन पटरी पर लौट रहा है। वहीं, पुलिस ने रविवार को तीन अलग अलग जगहों से चार और शव बरामद किए। इसके साथ ही हिंसा में मरने वालों की संख्या 47 तक पहुंच गई है।

ALSO READ:  रमेश सक्सेना ने कहा- हनुमान चालीसा का पाठ करें तो नहीं छू पाएगा कोरोना!

दिल्ली हिंसा को लेकर पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने हिंसा रोकने की कोशिश नहीं कि दिल्ली हिंसा पूरी तरह से सुनियोजित थी। दिल्ली में हिंसा होती रही और सरकार सोती रही।दिल्ली में कत्लेआम पहले भी हुए। लेकिन पहले कत्लेआम बाहर वाले आक्रमणकारी करते-करवाते थे। जैसे नादिरशाह, अहमद शाह अब्दाली ने आकर दिल्लीवालों को मारा। अब दूसरे तरह की हत्या हुई हैं। 1947 में जो हुआ सबसे भयानक था। लेकिन यह पहली बार है जब सब कह रहे हैं कि सरकार ने रोकने की कोशिश नहीं की।’

एस एन श्रीवास्तव ने अब दिल्ली के नए पुलिस कमिश्नर के रूप में पद संभाल लिया है। पद संभालने के बाद एस एन श्रीवास्तव ने कहा, ‘मेरी पहली प्राथमिकता शहर में शांति बहाल करना है। इस शहर में सब मिलजुल कर रहते है। देश हित में काम करना सभी की जरूरत है। सब उसमें मदद करे। आपसी सौहार्द बना रहे। एक कार्यक्रम तैयार किया है, हमारे अफसर इलाके में जा रहे है।’ दिल्ली पुलिस ने राजधानी में जारी हिंसा को लेकर अब तक 123 एफआईआर दर्ज हुए हैं। 25 एफआईआर फायर आर्मस की दर्ज हैं। दिल्ली पुलिस के मुताबिक 630 लोगों को पकड़ा है।

ALSO READ:  राज्यसभा चुनाव: क्या ज्योतिरादित्य सिंधिया को नहीं पता कि बीजेपी में मांग से लोग केन्द्रीय मंत्री नहीं बनते!

आप ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।