Home » सरकार ने वाल्व वाले एन-95 मास्क के उपयोग के खिलाफ दी चेतावनी

सरकार ने वाल्व वाले एन-95 मास्क के उपयोग के खिलाफ दी चेतावनी

N 95 Masks coronavirus
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

केंद्र सरकार ने सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेश को पत्र लिखकर वाल्व वाले एन-95 मास्क के उपयोग के खिलाफ चेतावनी जारी की है. साथ ही में कहा है कि ये कोरोना वायरस को रोकने में सहायक नहीं है और कोविड-19 को रोकने के लिए किए गए प्रयासों के विपरीत है. वाल्व वाले एन-95 मास्क को पहनने वाला व्यक्ति तो सुरक्षित रह सकता है, परन्तु उसके आस- पास वाले लोग नहीं.

राज्यों के स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा के प्रमुख सचिवों को स्वास्थ्य सेवाओं के महानिदेशक राजीव गर्ग ने पत्र में लिखा है कि “आपके संज्ञान में ये लाया जाता है कि वाल्व वाले एन-95 मास्क का उपयोग कोविड-19 को रोकने के लिए किए गए प्रयासों के विपरीत है क्योंकि ये वायरस को मास्क के बाहर आने से नहीं रोकता है. अत: मैं आपसे आग्रह करता हूँ कि लोगों को फेस कवर का पालन करने और अनावश्यक एन-95 मास्क का उपयोग करने से रोकें.”

READ:  10-day quarantine for UK visitors to India

स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक राजीव गर्ग ने घरेलू फेस मास्क के उपयोग को बढ़ावा देने की बात कही है. और इससे संबंधित अप्रैल माह में सरकार द्वारा जारी किए गए निर्देशों का जिक्र किया है. 

कैसे फेस मास्क करें इस्तेमाल

भारत में सार्वजनिक स्थानों पर अब मास्क पहनना अनिवार्य हैं. अप्रैल माह में भारत सरकार ने घरेलू फेस मास्क बनाने और उनके उपयोग से संबंधित निर्देश जारी किए थे. इन निर्देशों में फेस मास्क की दैनिक रुप से सफाई और धुलाई के ऊपर जोर दिया था.  किसी भी फेस मास्क को पाँच मिनट तक गर्म पानी में उबालना और फेस मास्क को पहनने से पहले और बाद में हाथों को बीस सेकेंड तक हैण्डवॉश या साबुन से धोना भी सरकार द्वारा जारी निर्देशों में शामिल है. परिवार के हर सदस्य के पास खुद का मास्क होना चाहिए. 

READ:  Covishield vaccine approved in Britain : ब्रिटेन ने कोविशील्ड को दी मंजूरी, वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट को लेकर अभी भी फंसा दांव

भारत से पहले कैलिफोर्निया बे एरिया की सरकार ने भी वाल्व वाले मास्क के उपयोग पर प्रतिबंध लगाया है. 

Written By Kirti Rawat, She is Journalism graduate from Indian Institute of Mass Communication New Delhi.

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।