Home » जानिए कौन हैं टाइम अवॉर्ड जीतने वाली 15 साल की गीतांजलि राव

जानिए कौन हैं टाइम अवॉर्ड जीतने वाली 15 साल की गीतांजलि राव

गीतांजलि राव
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दुनियाभर में मशहूर टाइम मैगजीन (Time Magazine ) के कवर पेज पर आना हर किसी का सपना होता है । वैसे तो कई भारतीय टाइम अवॉर्ड जीत कर कवर पेज पर छप चुके हैं, लेकिन इस बार यह कारनामा 15 साल की भारतीय मूल की अमेरिकी नागरिक गीतांजलि राव (Gitanjali Rao ) ने किया।

टाइम मैगजीन (Time magazine ) ने पहली बार बच्चों के लिए किड ऑफ द इयर ( Kid Of The Year ) श्रेणी के लिए नॉमिनेशन मांगे थे और करीब 5 हजार को इसके लिए नॉमिनेट किया गया था लेकिन 15 साल की नन्ही वैज्ञानिक और खोजकर्ता गीतांजलि राव ने 5 हजार बच्चों को पछाड़ते हुए यह अवॉर्ड अपने नाम किया । टाइम मैगजीन (Time magazine ) अब तक पहली बार किसी बच्चे को ( First Ever Time Kid Of The Year ) अवॉर्ड से नवाज़ा है । इससे पहले गीतांजलि को हाल ही में अमेरिका का टाप यंग साइंटिस्ट अवॉर्ड भी दिया गया था ।

READ:  Durga Puja 2021: Kolkata में Burj Khalifa की थीम पर सजाया गया मां दुर्गा का पंडाल, देखते ही रह जाएंगे दंग

Modi Hai To Manipulation Hai? Twitter trends with #ModiHaiToManipulationHai

गीतांजलि को यह अवॉर्ड उनके उस सेंसर के लिए दिया गया है जो पानी में लेड यानी शीशे की मात्रा का आसानी से पता लगा सकता है “ टेथिस “ नाम का यह डिवाइस मोबाइल की तरह दिखता और इसे आप आसानी से कहीं भी ले जा सकते है, और यह बाज़ार में मौजूद दूसरे डिवाइस से काफ़ी सस्ता है । गीतांजलि ने टेक्नोलॉजी का उपयोग कर दूषित जल से लेकर नशे और साइबर बुलिंग जैसे मुद्दों पर भी काम किया है । गीतांजलि को अवॉर्ड देते समय टाइम मैगजीन ने कहा “ कि यह दुनिया उन लोगों की है जो इसे एक रूप देते है “

टाइम मैगजीन की ओर से जब हॉलीवुड सुपरस्टार और सामाजिक कार्यकरता एंजलीना जोली ने उनका आनलाइन इंटरव्यू लिया तब गातांजलि ने बताया कि जब वह दूसरी ग्रेड में थी तब उनके मन में पहली बार यह ख्याल आया था कि कैसे टेक्नोलॉजी का उपयोग सामाज और दुनिया की बेहतरी के लिए किया जाए । आपको बता दें कि गीतांजलि ने साइबर बुलिंग को लेकर भी एक एप बनाया है जिसका नाम Kindly है ।

READ:  शाहरुख खान के बेटे Aryan के साथ मुनमुन और अरबाज को भी किया गया गिरफ्तार: NCB

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups.