उन्नाव में हिंदुस्तान पेट्रोलियम के गैस प्लांट में लगी आग, पूरे क्षेत्र में मचा हड़कंप..

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कानपुर शहर से सटे हुए उन्नाव जनपद के औद्योगिक क्षेत्र दहीचौकी में गुरूवार को हिंदुस्तान पेट्रोलियम के गैस रीफिलिंग प्लांट में आग लगने से पूरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया. आग सुबह 10 बजे के करीब लगी. सूचना मितले ही डीएम एसपी समेत प्रशासनिक अफसर और अग्निशमन की दमकल मौके पर पहुंच गई.

पुलिस प्रशासन ने मौक़े पर पहुंच कर तुरंत आसपास की फैक्ट्रियों और गांवों को खाली करा लिया. लगभग ढाई घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया. वहीं आग से झुलसे प्लांट के तीन लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. आग नियंत्रण में आने के बाद डीएम और एसपी समेत दमकल के जवान प्लांट के अंदर पहुंच आग के कारणों का पता लगा रहे हैं. लखनऊ कानपुर हाइवे पर कानपुर-लखनऊ लेन को बंद कर दिया गया था . लखनऊ कानपुर रूट की सभी ट्रेनों को रोकना पड़ा.

पढ़ें : मोदी सरकार ने की 1609 करोड़ की मीडिया फंडिंग, दैनिक जागरण को मिले सबसे ज्यादा 100 करोड़ रुपये

दो किमी दूर से भी गैस प्लांट में धुआं के गोले उठते दिखाई दे रहे थे इस बीच पांच धमाका भी जिससे प्लांट के सिलेंडर फटने का अनुमान लगा आसपास के लोगों में दहशत फैल गई. गांवों के लोग घर छोड़ खुले स्थानों पर जाकर खड़े हो गए. जब आग बुझी तब राहत की सांस मिली. अगर प्लांट के गैस टैंक फटते तो स्थिति भयावह हो जाती और कई किमी का क्षेत्र आग के गोलों की चपेट में आ जाता.

पढ़ें : मुहर्रम में क्यों मातम करते हैं शिया? जानिए इतिहास के पन्नों में दर्ज 1400 साल पुराना किस्सा

एचपी गैस रिफिलिंग प्लांट में लगी आग की चपेट में आने से झुलसे सुभाषचंद्र 52 पुत्र धनीराम निवासी आवास विकास, मो. गुफरान 28 पुत्र शरीफ खान निवासी एबीनगर, मो.आसिफ 22 पुत्र अजीज निवासी जमुका अचलगंज को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. डीएम देवेंद्र कुमार पांडेय ने कहना है कि समय रहते ही आग को बुझा लिया गया वरना बहुत बड़ा हादसा हो सकता था. पुलिस की टीम आग लगने के सही कारणों का पता लगाने में जुटी हुई हैं. स्थिति अब पूरी तरह से कंट्रोल में हैं.

पढ़ें : भुखमरी मिटाने में जो देश 103वें स्थान पर हो वहां ‘फिट इंडिया मूवमेंट’ किसी भद्दे मज़ाक़ जैसा