Sun. Sep 22nd, 2019

फाये डीसूज़ा ने कहा जुड़ी रहूंगी टाइम्स नेटवर्क से, दर्शकों का धन्यवाद

Faye D'Souza, Mirror Now, Mirror Now Faye D'Souza, Mirror Now executive editor Faye D'Souza, Faye D'Souza Resigns, Faye D'Souza Resigns from Mirror Now, Anchor Faye D'Souza, Journalist Faye D'Souza, Media censorship, Modi Government, PM modi,

Faye D'Souza, File Pic.

न्यूज़ डेस्क | नई दिल्ली

Faye D’Souza Resigns : देश भर में सिलसिलेवार तरीके से हो रहे पत्रकारों के इस्तीफों से मीडिया की स्वायत्ता और स्वतंत्रता पर एक बड़ा प्रश्चनचिन्ह खड़ा हो गया है। हिन्दी पत्रकारिता के दिग्गजों में से एक वरिष्ठ पत्रकार अजीत अंजुम के टीवी9 से इस्तीफे की चर्चा चल ही रही थी कि अब अंग्रेजी पत्रकारिता से आए एक इस्तीफे से मीडिया जगत में गर्माहट बढ़ गई है। देश के प्रतिष्ठित अंग्रेज़ी न्यूज़ चैनल Mirror Now से अचानक महिला पत्रकार और न्यूज़ एंकर फ़ाय डिसूज़ा (Faye D’Souza) के इस्तीफे की खबर से सभी हैरत में हैं।

उन्हें बयान जारी कर कहा

अपने चैनल की बैक बोन समझीं जातीं थीं फ़ाय डिसूज़ा-
मिरर नाउ की बैक बोन समझीं जाने वालीं फ़ाय डिसूज़ा अपने चैनल में एक्ज़ीक्यूटिव एडिटर थीं। फ़ाय डिसूज़ा की गिनती देश की चंद शीर्ष महिला पत्रकारों में होती हैं। डिसूज़ा अपने शो “द अर्बन डिबेट” में हिन्दु-मुस्लिम डिबेट से इतर जनता से जुड़े मुख्य मुद्दों, महिलाओं, किसानों, बेरोज़गारी, सामाजिक न्याय, असमानता जैसे मुद्दों पर तीखी बहस करना पसंद करती आईं हैं।

 

अपने शो द अर्बन डिबेट में मोदी सरकार से पूछे तीखे सवाल-
मिरर नाउ पर प्रसारित होने वाले कार्यक्रम द अर्बन डिबेट में फ़ाय ने आर्थिक मंदी पर मोदी सरकार और उनकी नीतियों की जमकर आलोचना की थी। वहीं इससे पहले कश्मीर और 370 के मुद्दे पर उन्होंने अपने डिबेट शो में मोदी सरकार से तीखे सवाल पूछे थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आर्थिक मंदी और कश्मीर मुद्दे पर सरकार को आईना दिखाने पर फ़ाय डिसूज़ा पिछले कई दिनों से निशाने पर थीं।

यह भी पढ़ें- जंजीरों में जकड़ी जा रही पत्रकारिता, आज़ादी को छटपटा रहे पत्रकार, क्या ये संकेत है अघोषित इमरजेंसी के?

धारदार पत्रकारिता से बनीं चैनल का चेहरा-
2017 में मिरर नाउ से जुड़ी फ़ाय डिसूज़ा अपनी धारदार पत्रकारिता की वजह से जल्द ही मिरर नाउ का चेहरा बन गईं। मुंबई के स्टूडियो में बैठकर उन्होने देश के गंभीर मुद्दों पर तल्ख टिप्पणी की और तीखे सवाल पूछें। टाईम्स नाउ का सिस्टर चैनल मिरर नाउ जल्द ही लोगों का पसंदीदा चैनल बन गया। क्योंकि मिरर नाउ ने बाकी चैनलों से इतर गंभीर पत्रकारिता को चुना।

डिबेट शो में बिना चीखें-चिल्लाएं पूछे सवाल-
फ़ाय डिसूज़ा ने अपने कार्यक्रम अर्बन डिबेट में जनता के सरोकार से जुड़े मुद्दों पर बिना चीखें-चिल्लाए सवाल पूछे। जहां एक तरफ मेनस्ट्रीम मीडिया चैनल में डिबेट के बहाने सर्कस चलाया जा रहा है वहीं फ़ाय डिसूज़ा ने यह दिखाया की किस तरह तथ्यों के माध्यम से एक गंभीर डिबेट प्रोग्राम भी टीआरपी बटोर सकता है।

 

कौन है फ़ाय डिसूज़ा-
बैंगलोर में जन्मी फाय डिसूज़ा ने ऑल इंडिया रेडियो से अपने पत्रकारिता करियर की शुरुआत की थी। इसके बाद सीएनबीसी 18 और टाईम्स नाउ में फाय डिसूज़ा ने बिज़नेस पत्रकार के रुप में काम किया। महिलाओं से जुड़े मुद्दों को फ़ाय डिसूज़ा ने हमेशा अपने शो में जगह दी। मिरर नाउ में आने के बाद फाय डिसूज़ा की धारदार पत्रकारिता शिखर पर पहुंच चुकी थी, जल्द ही उन्हें देश के प्रतिष्ठित पत्रकारों में गिना जाने लगा।

इस्तीफे से नाराज़ फैन्स ने सोशल मीडिया पर शुरू की मुहीम-
लोगों ने उनकी तुलना बरखा दत्त से करना शुरु कर दी थी। जनता से जुड़े मुद्दों को आवाज़ देने की वजह से लोगों का उनके प्रति प्रति प्यार बढ़ता चला गया। जब मिरर नाउ से उनकी विदाई की घोषणा हुई तो उनके फैन्स ने सोशल मीडिया पर उन्हे वापस बुलाने के लिए मुहिम शुरू कर दी। सोशल मीडिया पर सरकार से उनके द्वारा पूछे गए 370 और आर्थिक मंदी पर कड़े सवालों वाले वीडियो वायरल हो रहे हैं। और लगता है उनकी निडर पत्रकारिता किसी के लिए डर साबित हो गई।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: