Home » फरवरी 2020 को समाप्त होने वाले गाड़ियों के परमिट की वैधता 30 सितम्बर तक बढ़ी

फरवरी 2020 को समाप्त होने वाले गाड़ियों के परमिट की वैधता 30 सितम्बर तक बढ़ी

Motor Vehicles | गाड़ियों के वैधता समाप्त हुए सर्टिफिकेट की मान्यता 30 सितम्बर 2021 तक बढ़ाई गयी !
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report | News Desk | Motor Vehicles | Motor Vehicles certificate extension | फरवरी 2020 को समाप्त हुए सभी प्रकार के ड्राइविंग लाइसेंस, वाहन पंजीकरण (vehicle registration) प्रमाण पत्र, फिटनेस प्रमाण पत्र और सभी प्रकार के परमिट की वैधता केंद्र सरकार ने 30 सितंबर तक बढ़ा दी है। कोरोना महामारी की वजह से लॉकडाउन लगे होने के कारण डॉक्यूमेंटों का नवीनीकृत (renew) नहीं कराया जा सका था।

WTC Final : विजेता टीम को मिलेंगे इतने करोड़ रुपये, ICC ने की बड़ी घोषणा

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने गुरुवार को परिवहन विभागों को निर्देश दिया की पिछले साल फरवरी से समाप्त हो चुके दस्तावेजों का उपयोग करने वाले मोटर चालकों (Motor vehicles) पर मुकदमा ना चलाया जाये। वैध लाइसेंस के बिना ड्राइविंग पर ₹5,000 का जुर्माना लगता है, जबकि अन्य अमान्य दस्तावेजों के लिए दंड ₹5,000 (पंजीकरण प्रमाणपत्र), ₹10,000 (परमिट), ₹2,000-5,000 (फिटनेस प्रमाणपत्र) है। कोरोना महामारी के चलते देश में आर्थिक समस्याएं गहराती जा रही है, और लॉकडाउन के कारण कई काम भी नहीं हो पा रहें हैं, ऐसे में सरकार के इस कदम से मोटर चालकों को राहत मिल सकती है।

READ:  Kappa Variant: कोरोना का नया वेरिएंट आया सामने, कप्पा वेरिएंट हो सकता है खतरनाक

अधिकारियों ने स्पष्ट किया कि समाप्त हो चुके प्रदूषण नियंत्रण सर्टिफिकेट को उनकी वैधता में विस्तार नहीं दिया गया है। “गंभीर स्थिति को ध्यान में रखते हुए, यह सलाह दी जाती है कि सभी संदर्भित दस्तावेजों की वैधता, जिनकी वैधता का विस्तार लॉकडाउन के कारण नहीं हो सकता था या नहीं हो सकता था और जो 1 फरवरी, 2020 से समाप्त हो गए थे या उसके बाद 30 सितम्बर 2021 तक समाप्त हो जायँगे, उन सभी को 30 सितम्बर 2021 तक वैध माना जा सकता है । अधिकारियों को सलाह दी जाती है कि वह ऐसे दस्तावेजों को 30 सितंबर, 2021 तक वैध मानें। सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से अनुरोध है कि वे इस निर्देश को अक्षरश: लागू करें ताकि नागरिकों, ट्रांसपोर्टरों और विभिन्न अन्य संगठनों, जो इस कठिन समय में काम कर रहे हैं, परेशान न हों और कठिनाइयों का सामना न करें।” सरकार ने अपने द्वारा ज़ारी किये एक एडवाइजरी में ये जानकारी दी।

READ:  Meerut : खेल-खेल में लगी बॉल, दूसरी टीम ने कर दी फायरिंग!

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।