Home » राष्ट्रपति अर्दोग़ान की मेज़बानी के लिए वाइट हाउस तैयार है : ट्रम्प

राष्ट्रपति अर्दोग़ान की मेज़बानी के लिए वाइट हाउस तैयार है : ट्रम्प

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने दावा किया है कि तुर्की द्वारा संघर्ष विराम के लिए राज़ी होने का कारण उनकी प्रतिबंध लगाने की धमकी है.  एसोसिएटेड प्रेस के अनुसार ट्रम्प का कहना है कि तुर्की पर प्रतिबंधों की धमकी ने अपना काम किया.  उन्होंने कहा कि इसी के कारण तुर्की, संघर्ष विराम करने के लिए सहमत हुआ है.  इसी के साथ ट्रम्प ने कहा है कि वाइट हाउस, तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोग़ान की मेज़बानी के लिए तैयार है.

आज तक के इस पोस्टर ने भड़काई धार्मिक भावनाएँ, मिला नोटिस

इससे पहले अमरीका के उप राष्ट्रपति माइक पेन्स ने गुरूवार को बताया था कि तुर्की, उत्तरी सीरिया में अब कोई भी कार्यवाही अंजाम नहीं देगा.  दूसरी ओर अमरीका के उप राष्ट्रपति ने कहा है कि तुर्की के साथ हुए समझौते के अनुसार वाइट हाउस अब तुर्की के विरुद्ध कोई प्रतिबंध नहीं लगाएगा और अंकारा के विरुद्ध घोषित किये गए आर्थिक प्रतिबंध हटा लिए जाएंगे.अमरीकी अधिकारियों की ओर से इस प्रकार के बयान एसी स्थिति में सामने आर रहे हैं कि जब ट्रम्प की ओर से हरी झंडी मिलने के बाद ही अर्दोग़ान ने उत्तरी सीरिया के विरुद्ध सैन्य कार्यवाही आरंभ की थी.

READ:  13 साल की लड़की पर 144 बार चाकू से वार, 14 साल के लड़के ने पार की क्रूरता की हद!

तुर्की ने नौ अक्तूबर को सीमा पार कुर्दिश लड़कों पर हमला शुरू किया था. तुर्की द्वारा यह कदम तब उठाया गया जब वॉशिंगटन ने यह निर्णय लिया कि वह सीरिया में तैनात अपने सैनिकों को वहां से बाहर निकालेगा, जिसके बाद रिपब्लिकन ने इस कदम की आलोचना की थी. उनमें से कुछ ने तो इसे कुर्दों के साथ धोखेबाजी करार दिया था.

“लब पे आती है दुआ बनके तमन्ना मेरी” गीत गाने पर प्रिंसिपल सस्पेंड

उत्तर-पूर्व सीरिया में तुर्की की कार्रवाई का विरोध करते हुए अमेरिका ने कहा था कि वह उसकी अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर देगा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बीते सोमवार को घोषणा की कि अमेरिका तुर्की के अधिकारियों पर प्रतिबंध लगाएगा, साथ ही स्टील पर लगने वाले टैरिफ को भी बढ़ा देगा. वहीं, दोनों देशों के बीच 100 बिलियन डॉलर के व्यापार सौदे पर चल रही बातचीत को भी रद्द करेगा. ट्रप ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि तुर्की तबाही की राह पर बढ़ता चला गया तो हम उसकी अर्थव्यवस्था को तेजी से बर्बाद करने को तैयार है.