सासंद प्रज्ञा बोलीं- दिग्विजय सिंह मालेगांव बमब्लास्ट के षडयंत्रकारी थे

सासंद प्रज्ञा बोलीं- दिग्विजय सिंह मालेगांव बमब्लास्ट के षडयंत्रकारी थे
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश उपचुनाव में 3 नंवबर को वोटिंग होनी है। ऐसे में प्रदेश का सियासी पारा दिन-प्रतिदिन चढ़ता ही जा रहा है। कांग्रेस और भाजपा नेताओं द्वारा एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू है। वहीं आज सासंद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने प्रेसवार्ता कर कांग्रेस पर जमकर हमला बोला है।

प्रज्ञा ने कहा-पुलवामा अटैक के दौरान देश की सरकार ने वो कार्रवाई की जो उसे करनी चाहिए थी और मौजूदा गृह मंत्री ने सही फैसला किया था। लेकिन विपक्ष के राहुल गांधी ने विरोध किया था। देश भक्त को किसी समिति मे रहने की जरुरत नही है। कांग्रेस के लिए मै लानत देती हूं।

उत्तर प्रदेश : अमेठी में दलित प्रधान के पति को जिंदा जलाया, हुई दर्दनाक मौत

READ:  बुढ़ानशाह महिला कमांडो: गांव को नशामुक्त करने महिलाओं ने थामी लाठी

अभिनंदन जब पाकिस्तान पहुंचा तब बाजवा के कारण पाकिस्तानियों के हाथ पैर कांप रहे थे। कांग्रेस का पाकिस्तान और चीन प्रेम ज्यादा दिन नही चलेगा। कोई कानून निश्चित रुप से आना चाहिए जो देश का वंदेमातरम गीत का अपमान करने वाले हैं उन्हे सजा देने के लिए सख्त कानून आना चाहिए…

दिग्विजय सिंह मालेगांव बमब्लास्ट के षडयंत्रकारी थे..

अगर दिग्विजय का उससे लेना देना नही होता तो मुझे टॉर्चर नही किया जाता। राष्ट्रीय चिन्ह का,राष्ट्रीय गीत का अपमान करने वालों को सजा मिलनी चाहिए। बीजेपी ने बलिदान दिया है..बीजेपी मे पीएम मोदी अमित शाह देश भक्त है और इन्होने 370 धारा हटाई..

बलात्कार की घटनाएं एक मानसिकता का हिस्सा है..

हाथरस मे लड़की को किस ने मारा वो जांच का विषय है। बलात्कार जो होते हैं उसका किसी तरह से समर्थन नही होना चाहिए और आरोपी को मृत्युदंड मिलना चाहिए। झांसी की रानी के साथ जो हुआ वो इतिहास है। सिंधिया ने दूसरी पार्टी में रह कर 370 और राम मंदिर का समर्थन किया था। फ्रांस या विश्व में आतंकी गतिविधि फैलाने वाले बेधर्मी हैं। आतंक फैलाने वाले सिर्फ एक ही वर्ग के क्यों है,भोपाल मे भी ऐसे गद्दारों की कमी नही है..

READ:  मुल्ला और जिहादी बताकर तोड़ डाली साईबाबा की मूर्ती, कौन हैं ये लोग?

शिवराज बोले – कमलनाथ के दाग़ बड़े गहरे हैं, दुनियाभर के वॉशिंग पाउडर से भी नहीं धुलेंगे

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।