Home » दिल्ली हिंसा: खुफिया विभाग के अधिकारी की पीट-पीटकर हत्या, गोली भी मारी और शव नाले में छुपाया

दिल्ली हिंसा: खुफिया विभाग के अधिकारी की पीट-पीटकर हत्या, गोली भी मारी और शव नाले में छुपाया

Delhi Violence: So far 10 people killed and injured more than 150, five big updates of Delhi violence
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report News Desk | New Delhi

दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) में अब तक 20 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 250 से ज्यादा लोग घायल हैं। वहीं खबर है कि दिल्ली हिंसा में खुफिया विभाग (IB Officer) के एक अधिकारी की भी मौत हो गई है। एनडीटीवी इंडिया की खबर के मुताबिक, इंटेलिजेंस विभाग में तैनात अंकित शर्मा चांदबाग में ही रहते थें। ड्यूटी से घर लौटते वक्त इलाके में हिंसा शुरू हो गई और पत्थबाजों ने पीट-पीटकर उनकी हत्या कर दी और शव को नाले के पास छुपा दिया था।

इस मामले में दिल्ली पुलिस ने बताया कि, इंटेलिजेंस विभाग में बतौर सिक्योरिटी असिस्टेंट के पद पर तैनात अंकित शर्मा का शव नाले के पास छुपा दिया गया था जिसे दिल्ली पुलिस ने बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। शुरूआती जांच में पाया गया है कि पत्थरबाजी और पीट-पीटकर हत्या करने के साथ ही अंकित शर्मा को गोली भी मारी गई थी।

READ:  Mass cremations begin as Delhi faces deluge of COVID-19 deaths

यह भी पढ़ें: पुलिसवाले ने दंगाइयों से कहा कि जाओ पत्थर फेंको, दिल्ली हिंसा का आंखों देखा मंजर-2

IB अधिकारी अंकित शर्मा की उम्र करीब 25 वर्ष थी और वे दिल्ली स्थित खूफिया विभाग में तैनात थे। आरोप है कि मंगलवार शाम को जब अंकित शर्मा ड्यूटी से घर लौट रहे थे तभी चांद बाग पुलिया पर दंगाइयों ने उन्हें घेर लिया और पीट-पीट कर उनकी हत्या कर दी। इसके बाद शव को नाले में फेंक दिया। परिजन मंगलवार से ही अंकित शर्मा की तलाश में थे।

यह भी पढ़ें: दंगाई फल लूट कर अर्ध सैनिक बलों को खिला रहे थे, दिल्ली हिंसा का आंखों देखा मंज़र

READ:  Health tips for Coronavirus: पालक के ये पांच फायदे, जो इसे 'सुपर पॉवर फूड' बनाते हैं

रिपोर्ट्स के मुताबिक, अंकित के पिता रविंदर शर्मा भी आईबी में हेड कांस्टेबल हैं। उन्होंने एक आप नेता के समर्थकों पर हत्या का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि पिटाई के साथ अंकित को गोली भी मारी गई है।

आप ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।