Home » Teachers Inviting through loudspeakers : अनोखी पहल, ऑनलाइन क्लास के लिए टीचर्स स्टूडेंट को लाउडस्पीकर से बुला रहे 

Teachers Inviting through loudspeakers : अनोखी पहल, ऑनलाइन क्लास के लिए टीचर्स स्टूडेंट को लाउडस्पीकर से बुला रहे 

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

जहां कोरोना के चलते पिछले दो सालों से बंद पड़े हैं वहीं ऑनलाइन क्लासेस ने अपनी बच्चो के बीच जगह बनाने की बहुत अधिक कोशिश की है। कोरोना की वजह से ऑफलाइन क्लासों का होना संभव नहीं पा रहा है। इसके चलते सरकार ने बच्चो को ऑनलाइन शिक्षा देने का सुझाव दिया था। इसपर सभी स्कूलों ने अमल भी किया लेकिन बच्चो को इसमें दिलचस्पी नहीं है। शायद इसीलिए हर बच्चा ऑनलाइन क्लास से मुंह चुराता हुआ दिखता है।

इन सब परेशानियों के चलते देश की राजधानी दिल्ली में हालात कुछ ऐसे बन गए हैं कि लॉकडाउन के बाद ढूंढने से भी छात्र नहीं मिल रहे हैं। अब परेशानियों से निपटने के लिए राजधानी के सरकारी स्कूलों ने एक नई मुहिम चलाई है। दिल्ली के रोहिणी सेक्टर 8 के सर्वोदय विद्यालय के शिक्षकों द्वारा गांव के आसपास की झुग्गी झोपड़ियों में जाकर लाउडस्पीकर से बच्चों को बुलाया जा रहा है।

राष्ट्रपति कोविंद के काफिले के कारण महिला और मासूम की मृत्यु !

फेरी वालों ने बढ़ाया मदद का हाथ

शिक्षक और स्कूल के कर्मचारी ना सिर्फ लाउडस्पीकर से बच्चों की तलाश कर रहे हैं बल्कि उनके संबंध में पूछताछ भी कर रहे हैं। सर्वोदय विद्यालय के एक शिक्षक से पूछताछ करने पर उन्होंने बताया कि हम गांव के फल और सब्जी वालों से स्कूल आने वाले बच्चों के विषय में पता लगा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इसके लिए हम लाउडस्पीकर का भी प्रयोग कर रहे हैं ताकि एक बार फिर से गांव में शिक्षा की मुहिम चलाई जा सके। उन्होंने कहा कि कई बच्चे ऑनलाइन क्लास से गायब हैं। शिक्षक ने बताया कि आधे से ज्यादा बच्चे ऑनलाइन क्लास नहीं कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि आखिर बच्चे क्लास क्यों नहीं कर पा रहे हैं
यह समझने के लिए ही हम मुहिम चलाई गई है।

READ:  Twitter Appointed Vinay Prakash: आखिर मानने पड़े ट्वीटर को IT नियम, विनय प्रकाश को भारत में नियुक्त किया शिकायत निवारण अधिकारी

Pain killer During Covid-19: कोविड के दौरान कौन सा पेन किलर है सुरक्षित

घर के कामों में बच्चों की व्यस्तता

शिक्षक से बात करने पर उन्होंने बताया कि कोरोना और लॉकडाउन की मार देश के गरीब परिवारों को ज्यादा झेलनी पड़ी है। उन्होंने बताया कि गांव में घूमने के दौरान उन्हें पता चला कि कई ऐसे छात्र हैं जो ऑनलाइन क्लासेज छोड़कर मां बाप के कामों में हाथ बंटा रहे हैं। उन्होंने बताया कि घर की आर्थिक स्थिति को देखते हुए अभिभावक भी बच्चों से काम करवाने के लिए मजबूर हो गए हैं। इसपर शिक्षकों का कहना था कि सरकार को इस विषय में सोचना चाहिए क्योंकि अगर यही हालात रहे तो एक बार फिर से अशिक्षा का अंधकार हो सकता है।

READ:  Delhi govt job portal sees spike in registrations as capital opens in June

शिक्षकों की इस मुहिम की सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है। इसका वीडियो वायरल होने से तो इस मुहिम ने अलग पहचान पा ली है। शिक्षकों से बात करने पर उन्होंने कहा कि वे बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए हर मुमकिन प्रयास करेंगे ताकि उनका आने वाला भविष्य अंधकार से भरा न हो। शिक्षकों द्वारा चलाई जा रही मुहिम अपने आप में ही एक मिसाल है और हम सब को इससे सबक लेकर स्वयं को और अपने बच्चो को भी ऑनलाइन क्लास के लिए सजग करना चाहिए।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।