DCP South East Delhi Removed By Election Commission

शाहीन बाग़ गोली कांड: DCP चिन्मय बिस्वाल पर गिरी गाज

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

ग्राउंड रिपोर्ट | न्यूज़ डेस्क

दिल्ली के शाहीन बाग़ और जामिया नगर(Shaheen Bagh, Jamia Nagar) में खुलेआम गोली चलाने की घटना के बाद चुनाव आयोग एक्शन में है। दिल्ली पुलिस के DCP साउथ ईस्ट चिन्मय बिस्वाल (Chinmay Biswal) को चुनाव आयोग ने शाहीन बाग़ का दौरा करने के बाद हटाने का फ़ैसला किया। उन्हें गृह मंत्रालय को रिपोर्ट करने को कहा गया है। उनकी जगह सबसे वरिष्ठ एडिशनल डीसीपी साउथ ईस्ट कुमार ज्ञानेश (Kumar Gyanesh) को तुरंत चार्ज संभालने को कहा गया है।

आयोग ने बिस्‍वाल को पद से हटाए जाने का निर्देश जारी करते हुए कहा कि उन्‍हें तत्‍काल प्रभाव से पद से हटाया जाता है और वो गृह मंत्रालय को रिपोर्ट करेंगे। मौजूदा स्थिति को देखते हुए आयोग ने 1997 बैच के अधिकारी कुमार ज्ञानेश को दक्षिण-पूर्व दिल्‍ली के डीसीपी का प्रभार संभालने के आदेश दिए हैं। चुनाव आयोग ने कहा कि गृह मंत्रालय/दिल्‍ली के पुलिस कमिश्‍नर तत्‍काल तीन अधिकारियों के नाम आयोग को भेजें ताकि डीसीपी के पद पर योग्‍य अधिकारी की नियमित नियुक्ति हो सके।

चुनाव आयोग क्यों था नाराज़?

दिल्ली में चुनावों (Delhi Elections 2020) के मद्देनज़र सुरक्षा इंतजामों को लेकर, फायरिंग की घटनाओं और सड़क बन्द को लेकर चुनाव आयोग (Election Commission) की टीम ने नाराजगी जाहिर की थी। उसके बाद ही आयोग ने यह कार्रवाई की है। बता दें कि नागरिकता कानून के खिलाफ शाहीन बाग में 50 दिनों से प्रदर्शन जारी है और एक फरवरी को एक युवक ने उस इलाके में फायरिंग कर दी थी। हालांकि उस फायरिंग में कोई घायल नहीं हुआ था। उससे पहले भी जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी के बाहर इलाके में एक युवक द्वारा सरेआम पुलिस की मौजूदगी में फायरिंग करने की घटना के बाद पुलिस पर सवाल उठे थे। ऐसे में शाहीन बाग में वैसी ही एक और वारदात हो गई।

ALSO READ:शाहीन बाग में फिर चली गोली, बीते तीन दिनों में खुलेआम फायरिंग की दूसरी घटना

ALSO READ:क्या अनुराग ठाकुर के बयान से प्रेरित था गोली चलाने वाला युवक ? ट्विटर पर #ArrestAnuragThakur कर रहा ट्रेंड

नेताओं के भड़काऊ भाषण पर भी चुनाव आयोग सख्त

दिल्ली चुनावों में इस बार भाजपा नेताओं द्वारा भड़काउ भाषण दिए गए। केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर( Anurag Thakur) ने दिल्ली में एक चुनावी सभा में ‘देश के गद्दारों को गोली मारों …को’ जैसे नारे लगवाए। चुनाव आयोग ने उनपर 48 घंटे प्रचार न करने की रोक लगाई। भाजपा नेता परवेश वर्मा (Parvesh Verma) द्वारा सांप्रदायिक भाषण देने पर 98 घंटे प्रचार न करने की रोक लगाई गई। हाल ही में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने भी बोली की जगह गोली से जवाब देने की बात एक सभा में कही लेकिन अभी तक उनपर कोई एक्शन नहीं लिया गया है।

आप ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@gmail.com पर मेल कर सकते हैं।