Uttar Pradesh Rampur boy beaten whole night by family members of girlfriend got married in morning

दिल्ली: शादी में अब 200 के बजाय 50 गेस्ट, बाज़ार बंद करने पर भी हो सकता है फैसला

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली सरकार एक बा फिर सख्तियां लागू कर रही है। त्योहारों के बाद से अचानक दिल्ली में कोरोना के मामले बढ़े हैं। लोग लापरवाही बरत रहे हैं जिससे मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। फिल्हाल लॉकडाउन को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया है लेकिन कई सख्तियां दोबारा लागू की जा रही हैं। इसी में शादियों में मेहमानों की संख्या 200 से घटा कर 50 करना शामिल है। इस फैसले से आने वाले कुछ हफ्तों में होने वाली शादी बुकिंग पर पड़ेगा।

ALSO READ: छठ पूजा पर दिल्ली हाई कोर्ट, जिंदा रहेंगे तो कभी भी पर्व मना लेंगे

दिल्ली में बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर दिल्ली सरकार ने शादियों में शामिल होने वाले लोंगों की संख्या को फिर से कम कर दिया है। शादी में 200 के बजाय 50 गेस्ट शामिल करने के दिल्ली सरकार के प्रस्ताव को एलजी मंजूरी दे दी है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि शादियों में 200 लोगों की जगह सिर्फ 50 लोगों के शामिल होने के प्रस्ताव को उपराज्यपाल की मंजूरी मिल गई है। बता दें कि मंगलवार को दिल्ली सरकार ने इस आशय का प्रस्ताव एलजी के पास भेजा था।

ALSO READ:  SERO SURVEY: 29 फीसदी दिल्ली वाले कोरोना संक्रमित होकर हुए ठीक

दिल्ली में लॉकडाउन लगाए जाने की अटकलों को मनीष सिसोदिया ने खारिज किया और उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार का लॉकडाउन लगाने का कोई इरादा नहीं है। लॉकडाउन कोरोना से लड़ने का उपाय नहीं है। इससे लड़ने का एकमात्र उपाय मेडिकल मैनेजमेंट है। अभी दिल्ली में 26000 लोग होम आइसोलेशन में हैं। हमारे पास 16000 बेड हैं जिनमें से 50% बेड खाली हैं। 

ALSO READ: दिल्ली में बढ़ा कोरोना का कहर, हर एक घंटे में चार लोगों की मौत

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को इसकी सूचना दी थी कि सरकार ने शादी-विवाह और सभाओं में दी गई छूट वापस लेने का निर्णय लिया है। शादी-विवाहों में 200 की जगह 50 लोगों के शामिल होने का एक प्रस्ताव भी स्वीकृति के लिए मंगलवार सुबह एलजी अनिल बैजल को भेजा गया है। इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने केजरीवाल बताया था कि दिल्ली में कोरोना को फैलने से रोकने के लिए बाजारों में छोटे स्तर पर लॉकडाउन करने का एक प्रस्ताव मंजूरी के लिए केंद्र सरकार को को भेजा गया है। अगर सरकार को लगता है कि वो बाजार लोकल कोरोना हॉट स्पॉट बन सकता है तो एहतियात के तौर पर कुछ समय के लिए बाजार को बंद कर सकते हैं। 

ALSO READ:  Now fines of Rs 2,000 for not wearing masks in Delhi

केजरीवाल ने कहा कि कुछ हफ्ते पहले जब दिल्ली में कोविड-19 की स्थिति में सुधार हुआ था तो शादी, विवाह और सभाओं में शामिल होने वाले मेहमानों की संख्या 50 से बढ़ाकर 200 कर दी गई थी, लेकिन अब सरकार ने इस आदेश को वापस लेने का फैसला किया है। उन्होंने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्रालय के मौजूदा दिशानिर्देशों के तहत, राज्यों को स्थानीय लॉकडाउन जैसे प्रतिबंध लगाने के लिए केंद्र की मंजूरी की आवश्यकता है।

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Also Read