Home » Twitter: आईटी नियमों के पालन के लिए दिल्ली हाई कोर्ट ने ट्विटर को दिया आखिरी मौका

Twitter: आईटी नियमों के पालन के लिए दिल्ली हाई कोर्ट ने ट्विटर को दिया आखिरी मौका

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दिल्ली हाई कोर्ट ने ट्विटर को आखिरी मौका देते हुए बेहतर हलफनामा दाखिल करने के लिए एक हफ्ते का समय दिया दिल्ली हाईकोर्ट ने नए आईटी नियमों (IT Rules 2021) का पालन नहीं करने के लिए ट्विटर  (Twitter India) को फटकार लगाई है ट्विटर के हलफनामों से असंतुष्ट हाईकोर्ट ने एक हफ्ते के अंदर कंपनी को मुख्य अनुपालन अधिकारी और शिकायत अधिकारी की नियुक्ति पर दोबारा बेहतर हलफनामा दाखिल करने को कहा है जिसमे कोर्ट ने पाया कि हलफनामों में आईटी नियम 2021 का अनुपालन नहीं दिखाया गया है।

आपकी कंपनी क्या करना चाहती है अगर करना है, तो पूरे दिल से पालन करें

हाई कोर्ट ने ये बात कहते हुए जोर दार फटकार लगाई और एक हफ्ते का समय देते हुए कहा की हमे बेहतर हलफनामा चाहिए जिसमे कोर्ट ने कहा, “हलफनामे में स्पष्ट रूप से उन व्यक्तियों की जानकारी होनी चाहिए जिन्हें मुख्य अनुपालन अधिकारी और निवारण अधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया है और नियमो के पालन करने का आदेश दिया है साथ ही हलफनामे में ये भी कारण बताया जाएगा कि नोडल संपर्क व्यक्ति को अभी तक नियुक्त क्यों नहीं किया गया और उसे कितने समय में नियुक्त किया जाएगा।

Itarsi Medical College: इटारसी में मेडिकल कॉलेज खोलने की मुहिम तेज, आंदोलन को मिल रहा जन समर्थन!

READ:  India-China: No breakthrough in 13th round of talks

केंद्र सरकार ने दिल्ली हाई कोर्ट को दिया हलफनामा, Twitter पर लगाया नए आईटी नियमों का पालन नहीं करने का आरोप

केंद्र सरकार ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया है कि ट्विटर इंक. नए आईटी नियमों के अनुपालन में नाकाम रही है जो कि देश का कानून है और इसका अनुपालन अनिवार्य है अपने हलफनामे में, केंद्र ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, “सभी SSMI को आईटी नियम 2021 का पालन करने के लिए 3 महीने का समय देने और 26 मई को डेडलाइन समाप्त होने के बावजूद, ट्विटर इंक पूरी तरह से अनुपालन करने में विफल रहा है इसमें मुख्य अनुपालन अधिकारी, निवासी शिकायत अधिकारी, नोडल संपर्क व्यक्ति की नियुक्ति नहीं करना और ट्विटर की वेबसाइट पर फिजिकल कॉन्टेक्ट एड्रेस नहीं दिखाना शामिल है केंद्र ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया कि आईटी नियम, 2021 देश का कानून है और ट्विटर को इसका पालन करना अनिवार्य रूप से आवश्यक है।

AIPC के कार्यवाहक अध्यक्ष अशोक चौहान नें की केंद्रीय पंचायती राजमंत्री कपिल पाटिल से अहम मुलाक़ात

Twitter ने मानी भारत सरकार की बात, शिकायत अधिकारी को किया नियुक्त

ट्विटर के प्रवक्ता ने कहा है कि ट्विटर पहले भी और अब भी भारत सरकार के नियमों को लेकर प्रतिबद्द रहा है और सार्वजनिक बातचीत की महत्वपूर्ण भूमिका को निभाता रहा है हमने भारत सरकार को सुनिश्चित किया है कि ट्विटर, सरकार द्वारा बनाई गई सभी गाइडलाइंस का पालन करेगा और उनके नियम को भी अपनाएगा जिससे ट्विटर हाई कोर्ट को बेहतर हलफनामा पेश कर सके और शिकायत अधिकारी को भी इस बात का विशवास दिला सके कि अब से हम 2021 के ट्विटर से जुड़े कानून के सभी नियमों का पालन करेंगे।

READ:  Women's entry in NDA will be completed by May 2022: Govt

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।