Delhi Elections 2020, Aam Aadmi Party, AAP, Delhi Assembly Elections 2020, new delhi assembly constituency, CM Arvind Kejriwal, BJP Sunil Yadav, Congress Romesh Sabharwal, BJP, Congress, New Delhi,

Delhi Elections 2020 : केजरीवाल का ‘काफिला’ रोकने को तैयार बीजेपी-कांग्रेस, नई दिल्ली से सुनील और रोमेश को टिकट

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report News Desk | New Delhi

नई दिल्ली विधानसभा (Delhi Assembly Elections 2020) के मद्देनजर आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party, AAP) सहित कांग्रेस-बीजेपी (Congress-BJP) ने अपने नई दिल्ली विधानसभा सीट (new delhi assembly constituency) से अपने-अपने उम्मीदवारों का एलान कर दिया है। नई दिल्ली विधानसभा से आम आदमी पार्टी के मुखिया और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Chief Minister Arvind Kejriwal) पहले ही अपनी उम्मीदवारी घोषित कर चुके हैं। अब वहीं बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) ने भी नई दिल्ली विधानसभा सीट के लिए अपने-अपने उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर दी है।

बीजेपी ने नई दिल्ली विधानसभा सीट से सुनील यादव (New Delhi BJP Candidate Sunil Yadav) को टिकट दिया है जबकी कांग्रेस की ओर से रोमेश सभरवाल (New Delhi Congress Candidate Romesh Sabharwal) को टिकट मिला है। बीती रात बीजेपी द्वारा जारी की गई दूसरी लिस्ट में 10 लोगों को टिकट दिया गया है। इसके मुताबिक, नई दिल्ली से सुनील यादव को टिकट मिला है जबकी तेजिंदरपाल बग्गा (Tejinder Pal Bagga) हरि नगर से चुनाव लड़ेंगे। बता दें कि इससे पहले बीजेपी ने घोषणा करते हुए अपने 57 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की थी।

दिल्ली विधानसभा में कुल 70 सीटें हैं। इन 70 सीटों में से 58 सामान्य वर्ग के लिए तो 12 सीटें अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित हैं। 14 जनवरी से 21 जनवरी तक नामांकन किया जाएगा। जबकी नामांकन पत्रों की जांच परख 22 जनवरी को और नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि 24 जनवरी नियत की गई है।

नामांकन सुबह 11 बजे से दोपहर तीन बजे तक निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय में पहुंचकर पर्चा व शपथ पत्र भरा जा सकता है। उम्मीदवारों को जमानत राशि के रूप में दस हजार रुपये जमा कराने होंगे। आरक्षित सीट के लिए यह राशि पांच हजार तय की गई है।

बता दें कि, साल 2015 में दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए कुल 1413 उम्मीदवारों ने नामांकन पर्चा भरा था लेकिन मैदान में 924 उम्मीदवार ही चुनाव लड़ रहे थे। वहीं इस चुनाव में उम्मीद जताई जा रही है कि इस बार करीब 1500 से अधिक उम्मीदवार नामांकन दाखिल कर सकते हैं जबकी एक हजार के करीब उम्मीदवार दावेदारी कर सकते हैं।

वहीं इस चुनाव में करीब 1 लाख कर्मचारियों की तैनाती की गई है। चुनाव आयोग से मिली जानकारी के मुताबिक, दिल्ली की कुल 70 विधानसभा सीटों के लिए 2689 जगहों पर वोटिंग होंगी जिसके लिए कुल 13750 पोलिंग बूथ तैयार किए है।