Home » दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को कोरोना के साथ हुआ डेंगू, ICU में चल रहा इलाज

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को कोरोना के साथ हुआ डेंगू, ICU में चल रहा इलाज

Delhi Deputy Chief Minister Manish Sisodia, Manish Sisodia, coronavirus, dengue, LNJP Hospital, max hospital,
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Delhi Deputy Chief Minister Manish Sisodia) कोरोना वायरस के साथ-साथ डेंगू से भी संक्रमित पाए गए हैं। कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर मनीष सिसोदिया को लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। लेकिन सिसोदिया के खून में प्लेटलेट्स की संख्या में गिरावट आई है। उनकी डेंगू की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।

हालत में सुधार न होने मनीष सिसोदिया को लोकनायक जयप्रकाश (एलएनजेपी) अस्पताल से दिल्ली स्थित साकेत के मैक्स अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है। हांलाकि, गुरूवार को दिन में एलएनजेपी अस्पताल की ओर से बताया गया कि उप मुख्यमंत्री की हालत स्थिर है। उन्हें साकेत स्थित मैक्स अस्पताल में शिफ्ट गया है।

READ:  Coronavirus, when oxygen support needed: कोरोना वायरस होने पर ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत कब होती है?


BJP का ‘हिन्दू-मुस्लिम’ एजेंडा फेल, AAP के इस मुस्लिम उम्मीदवार को शाहीन बाग से मिले झोली भर के वोट

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस मामले में एक वरिष्ठ डॉक्टर ने कहा कि, “वह बुधवार से से गहन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में हैं, लेकिन उनकी हालत स्थिर है। मंत्री को ऑक्सीजन की मदद दी जा रही है और उनके स्वास्थ्य पर लगातार निगरानी रखी जा रही है।”

बता दें कि 14 सितंबर को कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि के बाद सिसोदिया घर में ही होम क्वारेंटाइन थे। हालांकि बुखार और ऑक्सीजन के स्तर में कमी के बाद बुधवार को सिसोदिया को एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

READ:  Delhi Covid wave worsens: 8 cases per minute, 3 deaths every hour

Delhi Election Results 2020: दिल्ली में आप की प्रचंड जीत, तीसरी बार मुख्यमंत्री बनेंगे केजरीवाल

इससे पहले कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के कारण सिसोदिया 14 सितंबर को दिल्ली विधानसभा के एक दिवसीय सत्र में हिस्सा नहीं ले पाए थे। सिसोदिया के पहले दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन भी संक्रमित हो गए थे। जैन जून में संक्रमित हुए थे और उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया था।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।