Home » Delhi Covid-19: क्या दिल्ली में लग सकता है संपूर्ण लॉकडाउन?

Delhi Covid-19: क्या दिल्ली में लग सकता है संपूर्ण लॉकडाउन?

Full lockdown in Delhi
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दिल्ली (Delhi Covid-19) में कोरोना वायरस संक्रमण के शुक्रवार को 19,486 नए मामले सामने आए और इस महामारी से 141 और मरीजों की मौत हो गई। दिल्ली में एक दिन की संक्रमितों की यह अब तक की सर्वाधिक संख्या है। दिल्ली में बिगड़ते हुए हालातों पर चर्चा के लिए मुख्यमंत्री केजरीवाल ने अहम बैठक बुलाई है।

क्या लग सकता है दिल्ली में पूर्ण लॉकडाउन?

अभी तक दिल्ली में संक्रमण को रोकने के लिए वीकेंड कर्फ्यू लगाया गया है और रात 10 बजे से सुबह छह बजे तक नाईट कर्फ्यू जारी है। लेकिन कोरोना के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं।

अरविंद केजरीवाल ने राजधानी में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा के लिए शनिवार को एक अहम बैठक बुलाई है।

सरकार के अनुसार अगर मामले काबू में नहीं आए तो पूर्ण लॉकडाउन के अलावा विकल्प नहीं बचेगा।

दिल्ली के बाजार संघों ने लॉकडाउन को समाधान के तौर लागू करने को खारिज कर दिया। बयान में कहा गया कि यह हमारी साझा राय है कि लॉकडाउन के बजाय बाजारों को खोलने के लिए अलग समय या उन्हें खोलने की अवधि कम की जा सकती है, क्योंकि लॉकडाउन का सीधा असर सरकार के राजस्व और कामगारों की आजीविका पर पड़ेगा और देश में असुरक्षा का भाव उत्पन्न होगा,

ALSO READ: अस्थमा मरीज़ों में होती है कोरोना से लड़ने की क्षमता?

READ:  Covid vaccine for children: expert panel approves Covaccine vaccine

क्या इंतज़ाम कर रही सरकार?

केजरीवाल ने शुक्रवार को अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया था कि दिल्ली कोरोना ऐप पर दिखाई गई बेड्स की संख्या अस्पतालों में वास्तव में उपलब्ध हो तथा इस तरह के बेड्स की संख्या बढ़ाई जाए। उन्होंने कह कि और अधिक कोविड देखभाल केंद्रों का निर्माण किया जाना चाहिए ताकि ऑक्सीजन की सुविधा के साथ बेड्स की संख्या बढ़ाई जा सके।

यह चर्चा की गई कि अस्पतालों में कई हेल्पलाइन नंबर होने चाहिए और हर हेल्पलाइन नंबर पर नोडल अधिकारी मौजूद हो ताकि कोई भी जरूरी कॉल नहीं छूटे या खारिज न की जाए।

स्वास्थ्य टीम को होम आइसोलेशन में रह रहे हर मरीज तक पहुंचना चाहिए और उसे ऑक्सीमीटर मुहैया कराना चाहिए। होम आइसोलेशन में लोगों को हर सहयोग मिलना चाहिए।

READ:  Covid vaccine for children in India

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।