जंगलराज : यूपी के संभल में सरेआम गोली मार कर दलित बाप-बेटे की हत्या

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report | UP

मंगवार को उत्तर प्रदेश के संभल ज़िले के चंदौसी में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई । संभल के चंदौसी से सपा के पूर्व विधानसभा प्रत्याशी छोटेलाल दिवाकर और उनके बेटे सुनील दीवाकर की गोलीमार कर हत्या कर दी गई है।बहजोई थाना के शमशोई गांव में मंगलवार की सुबह समाजवादी पार्टी के नेता छोटेलाल और उनके बेटे सुनील की दबंगों द्वारा सरेआम ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर हत्या कर दी गई। दिवाकर दलित समाज से ताल्लुक रखते हैं।

मामले पर संभल पुलिस ने कहा है कि टीमें गठित कर अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए कोशिश की जा रही है। कानूनी कार्रवाई की जा रही है। संभल पुलिस अधीक्षक ने मामले को लेकर बताया, गांव में मनरेगा की सड़क को लेकर हुए विवाद में एक पक्ष के लोगों द्वारा दूसरे पक्ष के पिता-पुत्र को गोली मारकर हत्या कर दी गई है। घटना स्थल पर उच्चधिकारीगण मौजूद है। शवों को कब्जे में लेकर अग्रिम विधिक कार्रवाई की जा रही है।

READ:  198 migrant workers killed in three months of Lockdown, Whom to blame?

वारदात के बाद इलाके में दहशत फैल गई। पुलिस अधीक्षक के साथ ही आईजी भी मौके पर पहुंचे हैं, हालांकि, हत्यारोपी अभी पुलिस पकड़ से दूर हैं। डबल मर्डर की पूरी घटना कैमरे में कैद हो गई। समाजवादी पार्टी के ट्विटर हैंडल से भी वीडियो शेयर किया गया है।

दरअसल, समाजवादी पार्टी के नेता छोटेलाल दिवाकर की पत्नी गाँव की प्रधान हैं। ऐसे में पत्नी का ज्यादातर काम छोटेलाल ही देखते थे। छोटेलाल मंगलवार की सुबह अपने बेटे सुनील दिवाकर के साथ गांव की आबादी से बाहर मनरेगा के अंतर्गत बन रही सड़क का जायज़ा लेने पहुंचे थे।इसी दौरान गांव के दबंग सड़क के आगे अपना खेत होने का दावा करने का हवाला देते हुए काम बंद करने को कहा। छोटेलाल ने सड़क का काम बंद करने से इनकार कर दिया। छोटेलाल के इनकार करते ही दबंगों ने गोली मारकर हत्या कर दी। पिता की हत्या होते देख बेटे सुनील दिवाकर ने भागकर अपनी जान बचानी चाही। इतने में हत्यारों ने सुनील को दौड़ा कर गिरा लिया और सुनील पर गोलियां बरसा दीं।

READ:  Coronavirus: ब्राजील में कमरों की तरह खाली की जा रही पुरानी कब्रें

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें [email protected] पर मेल कर सकते हैं।