Skip to content
Home » दलेर मेहंदी को दो साल की सज़ा; जानिए क्या है ये कबूतरबाज़ी का मामला ?

दलेर मेहंदी को दो साल की सज़ा; जानिए क्या है ये कबूतरबाज़ी का मामला ?

दलेर मेहंदी को अदालत ने हिरासत में लेने का आदेश जारी किया है। दलेर मेहंदी पंजाब के मशहूर सिंगर हैं। उनके पंजाबी गाने दुनियाभर में मशहूर हैं। पुलिस ने आदेश के कुछ समय बाद ही उनको गिरफ्तार कर लिया। दलेर मेहंदी को मानव तस्करी मामले में दो साल की सज़ा सुनाई गई थी। पटियाला हाईकोर्ट ने आज सुनवाई के दौरान सज़ा को बरकरार रखते हुए गिरफ्तारी की आदेश दिए।

फ्लैट मे रंगरेलियां मना रहा था हेडकांस्टेबल; पत्नी ने पकड़ा और वायरल कर दी वीडियो

वर्ष 2003 में दलेर मेहंदी के खिलाफ केस दर्ज हुआ था। इस केस में आरोपी एक बुलबुल मेहता को बरी कर दिया गया था। वहीं अन्य दो आरोपी शमशेर सिंह और ध्यान सिंह की मौत हो चुकी है। करीब 15 साल की सुनवाई के बाद 2018 में पटियाला की ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट कोर्ट ने उन्हें 2 साल कैद और 2 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई थी। लेकिन 3 साल कम सज़ा के कारण दलेर मेहंदी को उसी वक्त ज़मानत मिल गई।

क्या होती है कबूतरबाज़ी

ट्रायल कोर्ट की सज़ा के फैसले को दलेर मेहंदी ने पंजाब के पटियाला सेशन कोर्ट में चुनौती दी थी। हालांकि सुनवाई के दौरान एडिशनल सेशन जज एचएस ग्रेवाल ने दलेर की याचिका को खारिज कर दिया। जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। यह 2003 कबूतरबाज़ी का मामला है और केस का फैसला लंबे समय बाद हुआ। आइये आपको बताते हैं कि क्या है ये कबूतरबाज़ी।

बिजनेस में अपनी पहचान बनाती घरेलू महिलाएं

दरअसल ये कोई आसमान में उड़ने वाले कबूतर नहीं हैं। जिन्हें साथ लोग कबूतरबाज़ी करते हैं। यहां कबूतरबाजी का मतलब अवैध तरीके से लोगों को विदेश ले जाना है। यह धंधा पंजाब ही नहीं, देश के कई राज्यों में अलग-अलग नामों से किया जाता रहा है। दलेर मेहंदी पर आरोप है कि 1998-99 में एक शो के लिए जाते वक्त वह अवैध तरीके से 10 लोगों को अपने साथ अमेरिका ले गए।

विदेश ले जाने के उन लोगों से बदले में पैसे लिए गए। इन लोगों को दलेर ने अपनी टीम का हिस्सा बताया था। साल 2003 में इस मामले में दलेर के भाई शमशेर पर केस दर्ज हुआ था। जिसमें पूछताछ के बाद पुलिस ने दलेर को भी नामजद बनाया।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

%d bloggers like this: