शर्मनाक : मास्क नहीं पहना तो CRPF कमांडो को पुलिस ने पीटा और लगा दी हथकड़ी

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सीआरपीएफ के कोबरा कमांडो के पुलिस के हाथों पीटे जाने और हथकड़ी पहनाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। सोशल मीडिया में हाथ में हथकड़ी बांधे पुलिस स्टेशन पर सीआरपीएफ के कमांडो जवान की एक तस्वीर वायरल है। मामला सामने आने के बाद सीआरपीएफ अब इसको कनार्टक पुलिस के प्रमुख के सामने उठाएगी।

यह मामला कर्नाटक के बेलगावी जिले के चिक्कोडी तालुका का है। कोबरा कमांडो छुट्टी पर अपने गृह नगर आया हुआ था। सीआरपीएफ के अनुसार राज्य पुलिस ने उन्हें सूचित किया कि सावंत अपनी बाइक धोने के लिए अपने घर के बाहर था और उसने मास्क नहीं पहन रखा था और ड्यूटी पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने उससे पूछा कि उसने मास्क क्यों नहीं पहना है। पुलिस रिपोर्ट में कहा गया है कि कमांडो ने बीट कांस्टेबल और उसके साथ मौजूद एक अन्य पुलिसकर्मी के साथ बहस की और उनके साथ मारपीट की।

READ:  क्या कोरोना की दूसरी लहर की वजह आपको पता है?

सीआरपीएफ के अधिकारियों ने इसका यह कहते हुए विरोध किया कि जवान ने पुलिसकर्मियों को बताया कि उसने मास्क इसलिए नहीं पहना है क्योंकि वह अपने घर के बाहर ही था। इस घटना के कारण अर्धसैनिक बल के अधिकारियों में आक्रोश है। उन्होंने मामले में निष्पक्ष जांच की मांग की है और सीआरपीएफ के शीर्ष अधिकारियों से हस्तक्षेप की मांग की है।

READ:  Strict on Holi due to Covid-19, these are guidelines in these states

पुलिस की रिपोर्ट में कहा गया है कि कमांडो को आईपीसी और महामारी रोग अधिनियम की धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया है और फिलहाल वह स्थानीय सदलगा पुलिस थाने में न्यायिक हिरासत में है। सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल है जो सीआरपीएफ अधिकारियों के पास भी उपलब्ध है। इसमें सावंत को हथकड़ी लगा दिखाया गया है और दावा किया गया है कि यह स्थानीय पुलिस थाने की है। मंगलवार को कोर्ट जो भी फैसला करें लेकिन जिस तरह सीआरपीएफ कमांडो को पीटे जाने और हथकड़ी लगे वीडियो वायरल हो जाने से सीआरपीएफ के लाखो जवानों में गुस्सा है, वह कर्नाटक पुलिस से जवाब चाहते हैं। आखिर उसने ऐसी हरकत क्यों की। जो कसूरवार है उसके तुरंत सजा मिले।

READ:  Coronavirus के डर से Holi खेले या नहीं?

आप ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।