Home » 2019 में 245 पत्रकारों को हुई जेल, चीन नंबर वन पर भारत भी लिस्ट में

2019 में 245 पत्रकारों को हुई जेल, चीन नंबर वन पर भारत भी लिस्ट में

cpj 2019
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

ग्राउंड रिपोर्ट । न्यूज़ डेस्क

कमेटी टू प्रोटेक्ट जर्नलिस्ट (CPJ 2019) द्वारा हर वर्ष दुनियाभर में पत्रकारों की गिरफ्तारी के आंकड़े जारी किए जाते हैं। इस वर्ष भी दुनियाभर में रिकॉर्ड स्तर पर पत्रकारों को गिरफ्तार किया गया। 2019 में 245 पत्रकारों की गिरफ्तारी हुई जबकि 2018 में यह आंकड़ा 253 था।

स्त्रोत -सीपीजे

पत्रकारों की आवाज़ दबाने की कोशिश और देश में प्रेस की आज़ादी से जोड़कर इस रिपोर्ट को देखा जाता है। इस मामले में चीन नंबर एक पर रहा उसके बाद तुर्की, साउदी अरेबिया और मिश्र का नंबर आता है। इन देशों में सरकार के खिलाफ लिखने, गलत और फर्जी खबर लिखने के आरोप में पत्रकारों को गिरफ्तार किया गया। कई मामलों में बिना किसी आरोप के भी गिरफ्तारियां हुई। भारत के 2 पत्रकारों को साल 2019 में गिरफ्तार किया गया। दोनों ही पत्रकार कश्मीर से ताल्लुक रखते हैं।

READ:  IPL खेलने से मना किया तो विदेशी खिलाड़ियों के खिलाफ बड़ा एक एक्शन लेगा BCCI!
भारतीय पत्रकार जिनकी हुई गिरफ्तारी

सीपीजी 2019 प्रेस सेंसस के हिसाब से चीन, साउदी अरब, तुर्की और मिश्र में वहां के नेता शी जिनपिंग, एर्दोगान, महोम्मद बिन सलमान और अल सीसी ने तानाशाही रवैया अपनाते हुई प्रेस की आज़ादी पर लगाम लगाने की कोशिश की और सरकार के खिलाफ बोलने वाले पत्रकारों पर लगाम लगाई। साउदी अरब में पत्रकार जमाल खाशोगी की हत्या का मामला तो आपको याद ही होगा।

गलत खबर फैलाने के मामले में 30 पत्रकारों को गिरफ्तार किया गया। हालांकि यह रिपोर्ट गायब हुए और उन पत्रकारों के गिनती नहीं करती जिनकी हत्या कर दी गई हो।

गिरफ्तारी के मामले में भारत से केवल 2 ही मामले सामने आए लेकिन हमने देखा किस तरह सोशल मीडिया पर सरकार के खिलाफ पोस्ट करने, मिड डे मील का वीडियो बनाने वाले पत्रकारों और सरकार की पोल खोलने वाले पत्रकारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई। मीडिया फ्रीडम इंडेक्स में भी भारत की रैंकिंग लगातार गिर रही है। जबकि भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है और यहां का संविधान प्रेस की स्वतंत्रता सुनिश्चित करता है।

READ:  Parth Srivastava Suicide: CM Yogi की Social Media Team में काम कर रहे पार्थ श्रीवास्तव ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में इन पर लगाए गंभीर आरोप

पढ़ें पूरी रिपोर्ट: https://cpj.org/reports/2019/12/journalists-jailed-china-turkey-saudi-arabia-egypt.php