गुजरात में कोरोना मरीज़ों के लिए हिन्दू-मुस्लिम वार्ड

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report । News Desk

गुजराज की राजधनानी अहमदाबाद (Ahmedabad) से एक बेहद ही शर्मनाक मामला सामने आया है । यहां यहां एक सरकारी अस्पताल में कोरोना (corona) के मरीजों को उनके धर्म के आधार पर अलग-अलग वार्ड में रखा गया है। सरकार के आदेश पर अस्पताल में हिन्दू मरीजों को मुस्लिम मरीजों से अलग वार्ड में रखा गया है।

इंडियन एक्सप्रेस ने चिकित्सा अधीक्षक डॉ. गुणवंत एच राठौड़ के हवाले से बताया कि अस्पताल में हिंदू मरीज़ों के लिए अलग वार्ड और मुस्लिम मरीज़ों के लिए अलग वार्ड की व्यवस्था राज्य सरकार के आदेश के आधार पर की गई हैं। हालांकि सरकार ने चिकित्सा अधीक्षक के दावों को खारिज कर दिया है। राज्य के उप-मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री नितिन पटेल ने ऐसी किसी भी तरह की बात की जानकारी से इनकार किया है।

READ:  Manmohan Singh gave five suggestions to PM Modi on Covid crisis

बता दें कि अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में कोविड 19 के मरीज़ों के लिए 12 सौ बेड की व्यवस्था की गई थी। ये व्यवस्था कोरोना के संदिग्ध और पॉज़िटिव पाए जाने वाले मरीजों के लिए की गई थी। इसमें धर्म के आधार पर कोई बटवारा नहीं किया गया था। लेकिन अब कोरोना मरीज़ों के लिए की गई इस व्यवस्था को धर्म के आधार पर बांट दिया गया है।

आप ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।