Home » गंध और स्वाद महसूस ना होना भी अब कोरोनावायरस के लक्षण में शामिल

गंध और स्वाद महसूस ना होना भी अब कोरोनावायरस के लक्षण में शामिल

quarantines-for-seven-days-now
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

केंद्रीय स्वास्थय मंत्रालय ने शनिवार को सूंघने और स्वाद महसूस करने की क्षमता में कमी को कोरोनावायरस ( Coronavirus ) के लक्षण में शामिल कर लिया है , इस मुद्दे पर राष्ट्रीय टास्क फाॅर्स द्वारा चर्चा की गई थी, जिसके बाद यह निर्णय लिया गया । कोरोनावायरस के लक्षण में पहले बुखार, बलगम , सिरदर्द, सांस लेने में तकलीफ, गले में खराश, डायरिया, आदि शामिल थे, अब दो और लक्षण जैसे गंध और स्वाद महसूस न कर पाना भी लिस्ट में शामिल किया गया है।

कोरोना के कई मामलों में रोगियों की सूंघने और स्वाद महसूस करने की क्षमता में कमी आई है, जिसके बाद इन्हे भी लक्षणों में शामिल करने का फैसला लिया गया।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ( WHO ) ने अप्रैल में कई यूरोपीय देशों , अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया के साथ मिल कर सूंघने और स्वाद महसूस करने की क्षमता में कमी को कोवीड-19 के प्रमुख लक्षणों में जोड़ा था।

ALSO READ: रमेश सक्सेना ने कहा- हनुमान चालीसा का पाठ करें तो नहीं छू पाएगा कोरोना!

ALSO READ: पतंजलि आयुर्वेद ने ढूंढा कोरोना का इलाज, जल्द शुरु होगा ट्रायल

READ:  Mu variant of covid-19 found in 39 countries, how dangerous it is?

कोरोना वायरस के संक्रमण पर अध्ययनों की समीक्षा में यह बात सामने आई है कि संक्रमण के करीब 45 प्रतिशत ऐसे मामले हैं जिनमे संक्रमण के कोई भी लक्षण दिखाई नहीं दिए गए और इस प्रकार का संक्रमण लोगों को अंदर ही अंदर नुक्सान पहुंचा सकता है। अमेरिका के स्क्रिप्स रिसर्च ट्रांसलेशनल इंस्टिट्यूट ( Scripps Research Transnational Institute ) के एरिक टोपोल (Eric Topol ) सहित कई वैज्ञानिकों ने बिना किसी लक्षण वाले कोरोना के मामलों की समीक्षा की।

भारत में कोरोना का कहर

आपको बता दें की, भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के सर्वाधिक 11,929 नए मामले आये हैं, संक्रमितों की संख्या बढ़ कर 3,20,922 हो गई है । देश में मृतक संख्या 9,195 पर पहुंच गई है । स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ( MoHFW) ने यह जानकारी दी। देश में कुल 1,49,348 लोगों में कोरोना वायरस का संक्रमण है, वहीं 1, 63,378 लोग संक्रमण से मुक्त हो चुके है और एक मरीज़ विदेश चला गया है। मरीज़ों के ठीक होने की दर 51.5 फीसद से ज़्यादा हो चुकी है।

READ:  Another new COVID variant may be the most dangerous yet: Report

Written by Jyoti Dubey, She is a final year Post Graduation student of Journalism and News Media from GGSIPU, New Delhi.

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।