Home » Coronavirus : ग्लोबल इकोनॉमी के लिए भारी ख़तरा बना कोरोना वायरस

Coronavirus : ग्लोबल इकोनॉमी के लिए भारी ख़तरा बना कोरोना वायरस

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कोरोना वायरस के प्रकोप से चीन समेत पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था बुरी तरह से प्रभावित हो रही है। इसी के चलते ह्युंडई ने उल्सान कंप्लैक्स में उत्पादन स्थगित करने का फैसला किया है। पांच प्लांट वाले इस नेटवर्क में प्रति वर्ष 14 लाख वाहनों का उत्पादन किया जाता है। समुद्र तट पर स्थित होने के चलते इस प्लांट से ग्लोबल स्तर पर वाहनों का निर्यात होता है।

अब तक 636 लोगों की हो चुकी है मौत

चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। इस खतरनाक वायरस का संक्रमण रोकने के लिए चीन के अधिकतर क्षेत्रों में उत्पादन संयंत्रों को बंद किया जा रहा है। चीन में रहस्यमय वायरस से अब तक 636 लोगों की मौत हो चुकी है। संक्रमित लोगों की संख्या भी बढ़कर 31,161 हो गई है।

READ:  Indians donated 43% more during Covid pandemic in 2020: Survey

चीन में कोरोना वायरस से कार निर्माण में प्रयोग होने वाली वस्तुओं की आपूर्ति बाधित हो गई है। ह्युंडई के मामले में इलेक्ट्रॉनिक सामान की कमी हो गई है। इसी वजह से कंपनी को अस्थायी रूप से अपना उत्पादन रोकना पड़ा है। इस बीच आइएचएस मार्किट ने कहा है कि कोरोना वायरस के चलते ग्लोबल इकोनॉमी को भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है।

30 से ज्यादा रोबोट किए गए हैं तैनात

चीन ने कोरोना वायरस के प्रकोप से मुकाबले के लिए रोबोट भी उतार दिए हैं। इस महामारी से निपटने के लिए वुहान में पहले ही सेना तैनात की जा चुकी है। अब वुहान के कई बड़े अस्पतालों में 30 से ज्यादा रोबोट तैनात किए गए हैं। ये रोबोट पीडि़तों के उपचार में कई तरीके से मदद कर सकेंगे। चीन ने गुरुवार को देश के आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआइ) सेक्टर से वायरस से मुकाबले में योगदान देने की अपील की थी।

READ:  Migrant Construction Workers and Covid-19 Pandemic

आप ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप  के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@gmail.com पर मेल कर सकते हैं।