भारत में कोरोना

रुस, अमेरिका, ब्राज़ील से भी ज़्यादा भारत में कोरोना की रफ्तार

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दुनियाभर में इस हफ्ते के अंत तक 1 करोड़ से अधिक कोरोना मामले हो जाएंगे। विश्व स्वास्थ्य संगठन नें मौजूदा वृद्धी दर को देखते हुए यह अनुमान लगाया है। भारत में संक्रमण के मामले दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ रहे हैं। ऑवर वर्ल्ड इन डाटा के मुताबिक, बीते एक हफ्ते में कुल मामलों में 28.5 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई जबकि सर्वाधिक प्रभावित अमेरिका, ब्राजील और रूस में वृद्धिदर अपेक्षाकृत कम रही। अमेरिका और रूस के मुकाबले भारत में वृद्धि दर लगभग तीन गुना ज्यादा रही।  इसके अलावा एक सप्ताह के अंदर देश में मृत्युदर में भी काफी तेजी से इजाफा देखा गया है।

भारत कोरोना
दुनियाभर में अब-तक दर्ज हुए कुल मामलों में भारत का लगभग 5 फीसदी हिस्सा है

संक्रमण में कहां कितनी वृद्धि दर रही

भारत                   28.9 %
ब्राजील                  24.1 %
मैक्सिको                23.6 %
स्वीडन                  14.1 %
पेरू                     10.0 %
रूस                     10.0 %
अमेरिका                9.80 %
ईरान                    9.10 %

मौतों में मैक्सिको के बाद सबसे ज्यादा वृद्धि

भारत में दुनिया के मुकाबले मृत्युदर काफी कम है लेकिन बीते एक हफ्ते में इसमें काफी तेजी वृद्धि देखी गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, मरने वालों की संख्या में बीते सप्ताह के मुकाबले 22 फीसदी का उछाल आया है जबकि अमेरिका-ब्राजील और रूस में यह काफी कम है। आइए जानें कि किस देश में कितनी वृद्धि दर रही।

एक हफ्ते में बढ़ोतरी

मैक्सिको 27.7
भारत 21.7
पेरू 19.1
ब्राजील 16.4
रूस 14.8
ईरान 8.8
स्वीडन 4.5
स्पेन 4.4
अमेरिका 3.7

मामलो में वृद्धी की मुख्य वजह भारत में टेस्टिंग की रफ्तार बढ़ाना है। देश के कई राज्यों में अब घर-घर जाकर टेस्ट किये जा रहे हैं। जिन इलाकों में कोरोना के ज़्यादा मामले हैं वहां ज्यादा से ज्यादा टेस्टिंग पर ज़ोर दिया जा रहा है। सरकार के मुताबिक बढ़ते मामलों से घबराने की ज़रुरत नहीं है। भारत में कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या में भी लगातार इज़ाफा हो रहा है।

ऊपर ग्राफ को देख कर समझा जा सकता है कि भारत में किस तरह ठीक होने वालों की संख्या और नए मामलों की संख्या समानांतर बनी हुई है। हालांकि भारत में मामलों में इज़ाफे के बाद मौतों का आंकड़ा भी दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है जोकि चिंता का विषय है।

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।