Home » Coronavirus and Lungs Exercise: कोरोना से रिकवरी के बाद कैसे करें लंग्स (Lungs) को मजबूत

Coronavirus and Lungs Exercise: कोरोना से रिकवरी के बाद कैसे करें लंग्स (Lungs) को मजबूत

Coronavirus and Lungs Exercise
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Coronavirus and Lungs Exercise: देश में कोरोना महामारी के चलते कई लोग कोरोना संक्रमित हुए। जिसके कारण कई लोगों की मौत हुई, तो वहीं कई लोग ठीक भी हुए। आपको बता दें कि कोरोना (Corona) सबसे पहले मरीजों के फेफड़ों को प्रभावित करता है। जिसके चलते लोगों को श्वास संबंधी दिक्कत होने लगती है। ऐसे में कोरोना से ठीक हुए मरीजों के फेफड़े कमजोर होना एक आम बात है। ऐसे में उन्हें यह नहीं मालूम होता कि वह अपने फेफड़ों (Lungs) को स्वस्थ कैसे रखें। थोरेसिक सर्जन डॉ मोहित शर्मा (Mohit Sharma) ने अपने यूट्यूब चैनल Health OPD के मध्यम से बताया की कोरोना से ठीक हुए मरीजों को कुछ एक्सरसाइज (Coronavirus and Lungs Exercise) करनी चाहिए। जिससे उनके फेफड़े स्वस्थ रह सकें। फेफड़ों को स्वस्थ रखने के निम्नलिखित उपाय हैं।

थोरेसिक सर्जन डॉ मोहित शर्मा ने बताया कोरोना से रिकवरी के बाद फेफड़ों को ऐसे करें मजबूत

1. कोरोना (Corona) से ठीक हुए मरीजों को अपने फेफड़ों को मजबूत बनाने के लिए स्पाइरोमीटर से एक्सरसाइज करनी चाहिए। इसे हम बड़ी आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए मरीज को स्पाइरोमीटर को पकड़ कर स्वांस को अंदर की ओर खिंचे। इसके बाद जहां तक मार्कर जाएगा। वह मरीज के फेफड़ों (Lungs) की क्षमता को बढ़ा सकते हैं।

READ:  Nagda: 10 बच्चों में पाए गए मल्टी सिस्टम इंफ्लेमेटरी सिंड्रोम (MISC), तीसरी लहर की ओर इशारा

2. डीप यौगिक ब्रीथिंग से भी फेफड़ों को मजबूत किया जा सकता है। इसमें अपने बाएं हाथ को नाभि पर और एक हाथ अपनी छाती की मध्य बिंदु पर रखें। इसके बाद सांस को भरते हुए ब्रीथिंग कर सकते हैं। इसे पूर्ण यौगिक श्वास भी कहा जाता है। इस तरह से एक बार में इस एक्सरसाइज को 10 बार करें, और दिन में 5 से 7 बार कर लें। ऐसा करने से फेफड़ों की क्षमता बड़ा सकते हैं।

3. तीसरा तरीका है कैंडल ब्लो (Candle Blow) यानी मोमबत्ती बुझाना। पांच मोमबत्तियों को जला कर एक एक करके सभी को पूर्ण क्षमता से फूंक मार कर उन्हें बुझाए। इससे फेफड़ों को मजबूत बना सकते हैं।

4. जूस पीते समय या खाली स्ट्रॉ (Straw) लेकर उसे भरपूर हवा अंदर की ओर लें, फिर बाहर की ओर छोड़ें । ऐसा करते हुए 10 बार सांस अंदर की ओर खींचे और बाहर छोड़ें। इससे फेफड़े स्वस्थ होंगे।

Agra: अस्पताल में ऑक्सिजन की मॉकड्रिल से 5 मिनट में 22 कोरोना मरीजों की मौत

यदि नहीं है स्पाइरोमीटर तो क्या करें

आपको बता दें कि थोरेसिक सर्जन डॉ मोहित शर्मा ने कहा यदि आपके पास स्पाइरोमीटर नहीं है, या सांस लेने में किसी प्रकार की समस्या महसूस होती है तो फेफड़ों को मजबूत बनाने का एक और नायब तरीका आप अपना सकते हैं। वह है जन्मदिन पर इस्तेमाल किए जाने वाले गुब्बारे। दिन में 10 बार गुब्बारे फुलाने से फेफड़ों को मजबूत बनाया जा सकता है। ऐसा करने से लंग्स में प्रेशर पड़ता है। जिससे अच्छी physiotherapy होती है। इन सभी प्राणायाम से फेफड़ों की क्षमता को बढ़ाया जा सकता है।

READ:  Agra: अस्पताल में ऑक्सिजन की मॉकड्रिल से 5 मिनट में 22 कोरोना मरीजों की मौत

https://youtu.be/hejrrFySmzU

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.