Home » Corona Virus: वैज्ञानिकों के रिसर्च के अनुसार कॉफी है कोरोना से लड़ने में मददगार

Corona Virus: वैज्ञानिकों के रिसर्च के अनुसार कॉफी है कोरोना से लड़ने में मददगार

Corona Virus
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Corona Virus: देश में जहां एक ओर कोरोना के खतरे से बचने के लिए लोग अलग अलग प्रयोग कर रहें हैं। वहीं दूसरी ओर कॉफी भी कोरोना वायरस से लड़ने में लोगों के लिए मददगार साबित हो रही है। आपको बता दें कि वैज्ञानिकों की नई रिसर्च में यह खुलासा हुआ है कि कोरोना वायरस के खतरे को कम करने के लिए कॉफी (Coffee) बहुत ही असरदार है। ऐसे में कॉफी न सिर्फ आपको तरोताजा रखेगी बल्कि कोरोना वायरस (Corona Virus) के बढ़ते खतरे से बचने के लिए भी मददगार साबित होगी।

कैसे कॉफी कर सकती है कोरोना के बढ़ते खतरे को कम

आपको बता दें कि अमेरिका में नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी ने भी शोध के बाद यह पाया की कॉफी (Coffee) पीने वालों के मुकाबले कॉफी न पीने वालों में कोरोना वायरस (Corona Virus) का खतरा ज्यादा रहता है। ऐसे में यदि आप दिन में एक बार भी कॉफी का सेवन करते हैं तो, कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को कम किया जा सकता है। वहीं न्यूट्रीटेंट्स में प्रकाशित किए गए रिसर्च से पता चला है कि हरी सब्जियों के सेवन से कोरोना के खतरे को कम किया जा सकता है। इसके साथ ही मांस का इस्तेमाल न करें। मांस को खाने में शामिल करने से बचें।

READ:  IND vs ENG W T20: हरलीन देओल ने बाउंड्री लाइन पर 'सुपरवुमेन' बन पकड़ा हैरतअंगेज कैच, हर कोई रह गया हैरान

New Population Scheme: उत्तर प्रदेश में जनसंख्या नीति लागू, समझें 10 खास बातें!

कॉफी में होते हैं एंटीऑक्सीडेंट

कोरोना से लड़ने में मददगार साबित होने वाली कॉफी में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है। जी हां इसके साथ ही सूजन रोधी गुड़ भी इसमें पाए जाते हैं। वहीं रिसर्च के अनुसार अपने जीवन में कॉफी का सेवन करने से सूजन संबंधी बायोमार्कर्स को भी कम करने में मदद करती है। इतना ही नहीं बुजुर्गों को होने वाली निमोनिया जैसी बीमारी के खतरे को भी कम करने में कॉफी बहुत ही असरदार होती है।

कॉफी निमोनिया जैसी खतरनाक बीमारी के खतरे को भी करती है कम

जहां एक ओर कॉफी कोरोना के खतरे को कम करने में असरदार साबित हो रही है। वहीं दूसरी ओर बुजुर्गों में होने वाली निमोनिया जैसी बीमारी से लड़ने को उससे होने वाले खतरे को कम करने में काफी मददगार साबित हो रही है। आपको बता दें की इस शोध को यूके बायोबैंक के 40 हजार ब्रिटिश व्यस्कों के रिकॉर्ड का मूल्यांकन होने के बाद घोषित किए गया। इस शोध में वैज्ञानिकों ने रोजाना खाने में प्रयोग में आने वाली चीजों जैसे कॉफी, ऑयलीमछली,की प्रोसेस्ड मांस, हरी सब्जियां, ताजा फल, लाल मांस आदि पर जांच कर बताया कि पोषण कारक हमरे इम्यून सिस्टम को प्रभावित करते हैं। वैज्ञानिकों ने बताए की ऐसे में हरी सब्जियों और हेल्थी खाने का ही सेवन करना लाभकारी होगा। मांस से ज्यादा से ज्यादा दूरी बना कर रखें।

READ:  Jammu Kashmir: 74 साल बाद देखने को मिली बिजली, खुशी से फूले नहीं समाए लोग!

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।