भांडेर विधानसभा से कांग्रेस प्रत्याशी फूलसिंह बरैया की मुुश्किलें बढ़ीं, विरोध में 10 लोगों का इस्तीफा Madhya Pradesh by Elections 2020: Bhander assembly Congress candidate Phool Singh Baraiya's difficulties increased 10 people resign मध्य प्रदेश में कांग्रेस प्रत्याशी फूलसिंह बरैया का विवादित बयान, मुसलमान नहीं बल्कि सवर्णों को देश छोड़ना चाहिए !

मध्य प्रदेश में कांग्रेस प्रत्याशी फूलसिंह बरैया का विवादित बयान, मुसलमान नहीं बल्कि सवर्णों को देश छोड़ना चाहिए !

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश में आगामी विधानसभा उपचुनाव को लेकर सियासी बयानबाज़ियों का सिलसिला लगातार जारी है। मध्य प्रदेश की भांडेर विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी फूल सिंह बरैया एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि अभी भी वक्त है कि अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों को जाग जाना चाहिए वरना सवर्ण देश को हिंदू राष्ट्र बना देंगे। उनके इस बयान का विडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। जिसमें वह विवादित बयान देते नजर आ रहे हैं।

उन्होंने ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री विंस्टन चर्चिल के एक भाषण का उदाहरण देते हुए बताया कि एक बार जब हिंदुओं ने अंग्रेजों से भारत छोड़ने की मांग की तो चर्चिल ने कहा कि अगर भारत के मूल निवासी इस बात मांग करेंगे तो विचार किया जाएगा।

हाथरस गैंगरेप मामले में कब, कैसे, क्या हुआ, पढ़ें पूरी टाइमलाइन…

अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीट पर वोटरों को संबोधित करते हुए फूल सिंह बरैया ने कहा कि सवर्ण वर्ग के लोगों का कुत्ता अगर अनुसूचित जाति के लोग छू लेता हैं तो वे उस कुत्ते को अनुसूचित जाति के घर बांध आते हैं। इसलिए अनुसूचित जाति के लोगों को भी सवर्णों के घर जाकर उनकी महिलाओं को लड्डू खिलाने चाहिए, जिससे वह भी अस्पृश्य हो जाएं और फिर सवर्ण वर्ग के लोग उन्हें अनुसूचित जाति के घर के लोगों के घर छोड़ आएं। इस तरह अनुसूचित जाति के लोगों के दो-दो पत्नियां हो जाएंगी इनका विडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

आगे बोलते हुए कहा कि मुसलमानों से भारत छोड़ने की बात करने वाले सवर्णों को पहले खुद देश छोड़ना चाहिए क्योंकि वह मुसलमानों के बाद भारत आए हैं। इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि हम अनुसूचित जाति के लोग और मुसलमान एक ही पिता की संतान हैं चाहे तो डीएनए टेस्ट करा लिया जाए। सवर्ण तो खुद बाद में भारत आए हैं। उन्होंने लोगों से एकजुट होने की अपील करते हुए कहा यदि हम एक हो गए तो वे 15 है हम 85 वे मुकाबला नहीं कर पाएंगे।

समाजिक कार्यकर्ता अजय दुबे ने इस मामले की शिकायत चुनाव आयोग से की है। सोशल मीडिया पर वायरस एक अन्य में वे सवर्ण महिलाओं को लेकर विवादास्पद बयान दे रहे हैं।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।