congress leader satyendra singh tomar and shrikant chaturvedi joins BJP, Big shock to Kamal Nath

कमलनाथ को बहुत बड़ा झटका, कांग्रेस के ये दो प्रबल उम्मीदवार रातों-रात बीजेपी में शामिल

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश उपचुनाव से पहले राजनीतिक दल बदल की स्थिति बरकार है। एक बार फिर कांग्रेस और कमलनाथ को उपचुनाव से ठीक पहले बीजेपी ने बहुत बड़ा झटका दिया है। खबर है कि मुरैना जिले के वरिष्ठ कांग्रेस नेता और दिमनी विधानसभा से कांग्रेस के प्रबल दावेदार सत्येंद्र सिंह तोमर ने कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया है। कमलनाथ और कांग्रेस को झटका देते हुए सत्येंद्र सिंह तोमर ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की उपस्थिति में बीजेपी की सदस्यता ली। तोमर अचानक भोपाल पहुंचे और उन्हें मुख्यमंत्री निवास में शिवराज-सिंधिया ने बीजेपी की सदस्यता दिलवाई।

मध्य प्रदेश उपचुनाव : अंदरूनी कलह से जूझ रही बीजेपी, प्रत्याशी चयन करना मुश्किल!

इतना ही नहीं विंध्याचल के कद्दावर नेताओं में से मैहर से कांग्रेस के विधानसभा उम्मीदवार रहे श्री कान्त चतुर्वेदी भी कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया। श्री कान्त चतुर्वेदी भी तोमर की तरह अचानक मुख्यमंत्री निवास पहुंचे और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की उपस्थिति में बीजेपी की सदस्यता ली।

अचानक इस तरह उपचुनाव के पहले दो क्षेत्रीय कद्दावर नेताओं का कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल होना कमलनाथ के लिए किसी बड़े झटके से कम नहीं है। क्योंकि ये दोनों ही नेता अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों में विधायक के प्रबल उम्मीदवार माने जा रहे थे। अब चुनाव से पहले जहां शिवराज-सिंधिया कांग्रेस के पाले से दो उम्मीदवार बीजेपी में शामिल करने में सफल रहे हैं वहीं कांग्रेस और कमलनाथ के लिए इन सीटों के लिए मुश्किल बढ़ सी गई है।

हांलाकि देखना होगा कि अब शिवराज-सिंधिया की इस बाजी के बाद कमलनाथ क्या चाल चलते हैं और इन सीटों से किसे अपना उम्मीदवार घोषित करेंगे।

मध्य प्रदेश उपचुनाव: ‘बीजेपी के खिलाफ लोगों में आक्रोश, कांग्रेस करेगी वापसी’

वहीं इससे पहले कांग्रेस विधायक और मध्य प्रदेश मीडिया प्रमुख जीतू पटवारी ने बीजेपी नेता और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पर एक एक कर कई गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि, सिंधिया ने कहा था कि वे सत्ता के लिए नहीं जनसेवा करने की राजनीति करते है लेकिन अब जनसेवा करने के लिए चंबल नहीं गए। लेकिन चुनाव को ध्यान रखते हुए उज्जैन और इंदौर का दौरा कर रहे हैं। इसके साथ ही पटवारी ने कहा कि, जिस दिन भी मध्य प्रदेश में उप चुनाव होंगे उस दिन पूरे प्रदेश में कांग्रेस वापसी करेगी।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।