पाकिस्तान ना जाकर मुसलमानों ने कोई उपकार नहीं किया : योगी

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दिल्ली विधानसभा चुनाव संपन्न होने में महज़ 2/4 दिन का समय बाकी रह गया है। ऐसे में सियासी गलियारों का माहौल गर्म होना स्वाभाविक है। भारतीय जनता पार्टी अरविंद केजरीवाल से सत्ता की कुर्सी छीनने में कोई कसर बाकी नहीं लगाना चाहती। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ समेत बीजेपी के सभी स्टार प्रचारक इस समय दिल्ली में जुटे हैं और अपनी पार्टी के लिए जी तोड़ प्रचार कर रहे हैं। चुनावी भाषणों में एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप से लेकर पाकिस्तान, शाहीनबाग जैसे मुद्दे खूब उछाले जा रहे हैं। इस चुनाव में बीजेपी का मुख्य विषय शाहीन बाग है जहां पिछले डेढ़ महीने से महिलाएं नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में बैठी हैं।

स्वाभाविक रूप से कांग्रेस देश विभाजन का दोषी

चुनाव प्रचार के लिए दिल्ली पहुंचे सीएम योगी ने बीबीसी हिंदी को दिए अपने इंटरव्यू में कहा कि देश के स्वर्ग को नरक बनाने वाली धारा को, देश के अंदर अलगाववाद और अराजकता की धारा को हटाने पर राहुल गांधी और केजरीवाल को परेशानी होती है। स्वाभाविक रूप से कांग्रेस देश विभाजन का दोषी भी है और आज जब देश की सम्प्रभुता और एक भारत श्रेष्ठ भारत के अभियान को आगे बढ़ाने की कार्रवाई प्रारंभ होती है तो उन स्थितियों में अगर कांग्रेस और केजरीवाल देश में माहौल ख़राब करने का कुत्सित प्रयास कर रहे हैं, तो यह स्वीकार्य नहीं होना चाहिए। देश की जनता इसे स्वीकार नहीं करेगी।

ALSO READ:  Cop among four dead in violent Jaffrabad clashes, Sec 144 imposed

देश के विभाजन का विरोध होना चाहिए था

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मुसलमानों ने बंटवारे के समय पाकिस्तान ना जाकर देश पर कोई उपकार नहीं किया। देश के विभाजन का विरोध होना चाहिए था। भारत के विभाजन का विरोध होना चाहिए था। जो बातें भारत के हित में हैं आपको उनका समर्थन करना चाहिए। लेकिन जो भारत के विरोध में हैं उसका डटकर विरोध करना चाहिए। यही हमारी राष्ट्रभक्ति कहती है और यही भारत के हर नागरिक का दायित्व भी बनता है। योगी के कहने पर नहीं या फिर मोदी जी के कहने पर नहीं, अगर भारत के हित में है तो आप समर्थन कीजिए और अगर भारत के विरोध में है तो आप विरोध कीजिए।

ALSO READ:  मुसलमानों को 5 फीसदी आरक्षण देगी महाराष्ट्र सरकार

नेहरू-लियाक़त पैक्ट मोदी जी ने तो नहीं बनाया था

‘सीएए का विरोध करने वालों की मांग है कि इसे धर्म के आधार पर लागू नहीं किया जाए’ इस प्रश्न के जवाब में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नेहरू-लियाक़त पैक्ट किसने बनाया था…? मोदी जी ने तो नहीं बनाया था। नेहरू जी भारत के प्रधानमंत्री थे और लियाक़त अली पाकिस्तान के पीएम थे। 1955 में नागरिकता क़ानून किसने बनाया था? तब सरकार किसकी थी? 1947 में बापू ने क्या बात कही थी? उन्होंने कहा था कि जो हिंदू और सिख पाकिस्तान में रह गए वे जब भी चाहें भारत में आ सकते हैं। इसका तो स्वागत होना चाहिए।

ALSO READ:  CAA-NRC Protest : दिल्ली पुलिस ने लाठियों के बाद प्रदर्शनकारियों को लगाया 'चाय-बिस्किट का मरहम'

टीएमसी नेता की गुंडागर्दी, रस्सी बांधकर महिला को सड़क पर घसीटा

बता दें कि 8 फरवरी को 70 सीटों वाली दिल्ली विधानसभा का चुनाव होना है। पिछले चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 70 में से 67 सीटों पर जीत हासिल कर पूर्ण बहुमत से अपनी सरकार बनाई। भारतीय जनता पार्टी को केवल 3 सीटें ही मिल सकीं। इसलिए बीजेपी इस बार अपनी पिछली पराजय को विजय में परिवर्तित करना चाहती है। और इसीलिए आम आदमी पार्टी और बीजेपी में कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है। हालांकि देश की प्रमुख पार्टी में से कांग्रेस इस बार पूरी तरह लड़ाई से बाहर नज़र आ रही है।