कौन हैं सांता क्लॉज

Christmas 2020 : कौन हैं सांता क्लॉज, मोजे में ही क्यों बांटते हैं उपहार

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

हर साल 25 दिसंबर को भारत समेत पूरी दुनिया में क्रिसमस का त्योहार मनाया जाता है। यह दिन ईसाई धर्म के संस्थापक प्रभु ईशु के जन्म दिवस के रूप में मनाते हैं। छोटे बच्चों को तो बस अपने सांता क्लॉज का इंतजार रहता है। जो रात को चुपके से आकर उनके तकिए के नीचे उपहार रखकर जाता है। सांता क्लॉज लाल रंग के कपड़े पहन कर सांता क्लॉज आते हैं और मोजे में बहुत सारे उपहार रखकर लाते हैं। क्या आपको पता है कि सांता क्लॉज कौन थे और वे मोजे में ही क्यों उपहार लेकर आते हैं। आइये जानते हैं।

READ:  Saarthi Education Foundation: The COVID heroes who deserve a salute!

कौन हैं सांता क्लॉज

वैसे तो सांता का क्रिसमस से कोई सीधा संबधं नहीं है लेकिन सांता क्लॉज की कहानी इस तरह से है कि चौथी शताब्दी में एशिया माइनर में  मायरा नाम की एक जगह थी जो कि अब तुर्की में है। यहां पर सेंट निकोलस नाम का एक आदमी रहता था। सेंट निकोलस बहुत धन था लेकिन बचपन में ही उसके माता-पिता की मौत हो चुकी थी। सेंट निकोलस बहुत दयावान व्यक्ति था और उसे प्रभु ईशु में भी बहुत आस्था थी। निकोलस अक्सर ही बिना बताए जरूरतमंद लोगों की मदद किया करता था। वह एकदम चुपके से जाकर लोगों को तोहफे दे देता था तोहफो को अचानक देखकर लोग खुश हो जाते थे। 

READ:  What Gandhi ji and shastri ji convey to youth

एक बार सेंट निकोलस को कहीं से पता चला कि एक गरीब आदमी की तीन बेटियां है, लेकिन उस व्यक्ति के पास उनकी शादियों के लिए उसके पास बिल्कुल भी धन नहीं है। ये बात जानने के बाद निकोलस ने इस शख्स की मदद करने की सोची और वह रात को उस आदमी की घर की छत में लगी चिमनी में से सोने से भरा बैग नीचे डाल दिया। उस दौरान इस गरीब शख्स ने अपना मोजा सुखाने के लिए चिमनी में लगाया हुआ था।

उस व्यक्ति ने देखा कि इस मोजे में अचानक सोने से भरा बैग उसके घर में गिरा है और ऐसा तीन बार हुआ। उस व्यक्ति ने आखिरी में निकोलस को ऐसा करते हुए देख लिया। निकोलस ने उससे कहा कि यह बात वो किसी को न बताए, लेकिन फिर भी यह बात चारों ओर फैल गई। तब से जैसे ही किसी को अचानक से कोई उपहार मिलता तो उसे लगता की सांता क्लॉज ने दिया है। कहा जाता है कि इसी के बाद से क्रिसमस के दिन उपहार देने का रिवाज चलता गया। 

READ:  Diwali 2020: भारत के अलग-अलग राज्यों में कैसे मनाई जाती है दिवाली?

Mainpuri: Sister Married a Dalit, Brothers Killed And Burried her Body

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें [email protected] पर मेल कर सकते हैं।