Home » HOME » भारत को घेरने के लिए चीन इस जगह बना रहा आर्टिफिशियल आइलैंड

भारत को घेरने के लिए चीन इस जगह बना रहा आर्टिफिशियल आइलैंड

Ground Report | News Desk

जहां पूरी दुनिया कोरोनावायरस से जंग लड़ने में लगी है, वहीं चीन इस मौके का फायदे उठाने में लगा है । ताजा मामला भारत से 600 किमी दूर हिंद महासागर में चीन द्वारा एक Artificial Island बनाने का है । चीन साउथ चाइना सी की तर्ज पर हिंद महासागर में नया द्वीप बनाकर भारत के सामने सीधे तौर पर सामरिक चुनौती पेश कर रहा है। इसका खुलासा हाल ही में सैटेलाइट तस्वीरों के जरिए हुआ है। इन तस्वीरों को ओपन सोर्स इंटेलीजेंस एनॉलिस्ट डेटरेसफा ने जारी किया है।


मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन ने 2016 में अपने कार्यकाल के दौरान चीनी कंपनियों को अपने देश के 16 द्वीप लीज पर दिए थे। सेटेलाइट से जारी तस्वीर के मुताबिक चीन इन द्वीपों पर बड़े पैमाने पर निर्माण कार्य कर रहा है। विशेषज्ञों के अनुसार इस द्वीपों में चीन द्वारा इतने बड़े पैमाने पर निवेश करने के पीछे भारत को घेरने को साजिश है। 

READ:  JEE Exam Hack: बच्चों के एग्ज़ाम पेपर की सुरक्षा की चिंता कौन करेगा?

भारत को क्यों है खतरा- चीन के इस कदम से भारत को सबसे ज्यादा खतरा है । जो द्वीप बन रहा है उसकी दूरी भारत से सिर्फ 600 किमी दूर है। यानी 20 मिनट में कोई भी मिसाइल पहुंच सकता है। हालांकि भारत ने भी तैयारियां शुरू कर दी है।

हथियारों की खरीद फरोख्त पर नजर रखने वाली अंतरराष्ट्रीय संस्था सिपरी (सीआईपीआरआई) के न्यूक्लियर इंफोर्मेशन प्रोजक्ट के निदेशक हेंस क्रिस्टेंसन ने ट्वीट कर कहा कि मालदीव के फेढू फिनोलु द्वीप को तत्कालीन सरकार ने चीन को चार मिलियन डॉलर में लीज पर दिया गया था। अब चीन यहां साउथ चाइना सी की तर्ज पर बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव के तहत भारत को घेरने की कोशिश कर रहा है। चीन ने हिंद महासागर में स्थित कई देशों को अपने कर्ज के जाल में फंसाया हुआ है।