Home » Children’s say no to mask: डब्ल्यूएचओ का कहना नहीं लगाना पड़ेगा 5 साल से कम उम्र के बच्चों को मास्क

Children’s say no to mask: डब्ल्यूएचओ का कहना नहीं लगाना पड़ेगा 5 साल से कम उम्र के बच्चों को मास्क

Children's say no to mask
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Children’s say no to mask: पूरे देश में कोरोना महामारी फैलने के बाद इससे बचाओ के लिए सरकार द्वारा कुछ गाइडलाइंस बनाई गई थीं। जिसमें सभी को मास्क लगाना अनिवार्य था। गाइडलाइंस के मुताबिक घर से भर निकलते समय मास्क लगाना अनिवार्य था। ऐसा न करने पर जुर्माना भरना पड़ता है। वहीं अब WHO ने बच्चों के लिए मास्क को लेकर नई गाइडलाइंस जारी की है। जिसमें सरकार ने कहा है कि 5 साल से कम उम्र के बच्चों को मास्क नहीं लगाना पड़ेगा (Children’s say no to mask)। आपको बता दें कि 12 साल से ज्यादा उम्र के बच्चों को मास्क पहनना जरूरी है।

सरकार ने कहा बच्चों को सिखाएं मास्क पहनना और उतारना

आपको बता दें कि डब्ल्यूएचओ ने नई गाइडलाइंस जारी करते हुए कहा है कि 5 साल या इससे कम उम्र के बच्चों को मास्क नहीं लगाना पड़ेगा। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि 6 से 11 साल के उम्र के बच्चों को मास्क लगाना जरूरी है। उनका मानना है कि छोटे बच्चों को मास्क पहनना और उतारना नहीं आता। जिसके चलते संक्रमण फैलने का खतरा और बढ़ सकता है। वहीं माता पिता को अपने बच्चों के मास्क पहनने और उतारने के तरीकों पर ध्यान देना चाहिए।

READ:  Coronavirus and Lungs Exercise: कोरोना से रिकवरी के बाद कैसे करें लंग्स (Lungs) को मजबूत

Vaccination: 21 जून से 18+ के लोगों के लिए केंद्र सरकार सभी राज्यों को देगी मुफ्त वैक्सीन

माता पिता कैसे अपने बच्चों पर दें ध्यान

5 साल या उससे कम उम्र के बच्चों को मास्क पहनना और उतारना सिखाएं

बच्चे खेलते समय न पहने मास्क

बच्चों को कम से कम बाहर खेलने की मंजूरी दें

क्यों नहीं पहनना चाहिए बच्चों को खेलते समय मास्क

माता पिता को ध्यान देने की जरूरत है कि बच्चों को खेलते समय या एक्सरसाइज करते समय मास्क नहीं पहनना चाहिए। आपको बता दें कि खेलते वक्त बच्चे ज्यादा तेजी से सांस लेते हैं। वहीं बच्चों की सांस की नली बड़ों के मुकाबले मुलायम भी होती है। ऐसे में सांस न ले पाने की समस्या हो सकती है, जो आगे चलकर सांस संबंधित समस्या बन सकती है। ऐसे में बच्चों को घर के बाहर जा कर खेलने की अनुमति बिल्कुल न दें। यदिबच्चेबाहर खेलने जाते हैं, तो संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है।

READ:  आंखे सिकोड़कर नस्लभेदी इशारा कर रही थी ये महिला खिलाड़ी, इतने मैचों से हो गईं निलंबित!

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.