Home » CAA-NRC Protests: हिंसा करने वालों से पीएम मोदी ने पूछा- घरों में बैठकर सोचें कि क्या ये सही था?

CAA-NRC Protests: हिंसा करने वालों से पीएम मोदी ने पूछा- घरों में बैठकर सोचें कि क्या ये सही था?

CAA NRC Protests, Prime Minister Narendra modi, Kanpur, Uttar Pradesh, NRC, PM Modi,
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report News Desk | New Delhi

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में जहां देश भर में विरोध प्रदर्शन और हिंसात्मक घटनाएं हो रही है वहीं इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस मामले में चिंता जाहिर की है। एक सभा में संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि, उत्तर प्रदेश में जिस तरह लोगों ने हिंसा की, संपत्ति को नष्ट किया है वो लोग अपने घरों में बैठकर सोचें कि क्या ये सही था? हिंसा करने और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले लोगों को आत्मचिंतन करना चाहिए।

इतना ही नहीं इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि, सरकारी संपत्ति को तोड़ने वालों को मैं कहना चाहूंगा कि बेहतर सड़क, बेहतर ट्रांसपोर्ट सिस्टम, उत्तम सीवर लाइन नागरिकों का हक है तो इसे सुरक्षित रखना और साफ-सुथरा रखना भी तो उनका कर्तव्य। पीएम मोदी ने कहा कि आज अटल सिद्धि की इस धरती से मैं यूपी के युवा साथियों को, यहां के नागरिकों से मैं एक और आग्रह करने आया हूँ। आजादी के बाद के वर्षों में हमने सबसे ज्यादा जोर अधिकारों पर दिया है, लेकिन अब हमें अपने कर्तव्यों, अपने दायित्वों पर भी उतना ही बल देना है।

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में जहां देश भर में विरोध प्रदर्शन और हिंसात्मक घटनाएं हो रही है वहीं इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस मामले में चिंता जाहिर की है। एक सभा में संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि, उत्तर प्रदेश में जिस तरह लोगों ने हिंसा की, संपत्ति को नष्ट किया है वो लोग अपने घरों में बैठकर सोचें कि क्या ये सही था? हिंसा करने और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले लोगों को आत्मचिंतन करना चाहिए।

READ:  अस्पताल में नहीं था कोई डॉक्टर, भर्ती कराने के लिए भकटता रहा बेबस पिता लेकिन मासूम बच्ची ने गोद में तोड़ा दिया दम

इतना ही नहीं इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि, सरकारी संपत्ति को तोड़ने वालों को मैं कहना चाहूंगा कि बेहतर सड़क, बेहतर ट्रांसपोर्ट सिस्टम, उत्तम सीवर लाइन नागरिकों का हक है तो इसे सुरक्षित रखना और साफ-सुथरा रखना भी तो उनका कर्तव्य। पीएम मोदी ने कहा कि आज अटल सिद्धि की इस धरती से मैं यूपी के युवा साथियों को, यहां के नागरिकों से मैं एक और आग्रह करने आया हूँ। आजादी के बाद के वर्षों में हमने सबसे ज्यादा जोर अधिकारों पर दिया है, लेकिन अब हमें अपने कर्तव्यों, अपने दायित्वों पर भी उतना ही बल देना है।

बता दें कि, उत्तर प्रदेश सहित देश भर के तमाम राज्यों में 10 दिसंबर से नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में तेजी देखी गई थी। वहीं 15 दिसंबर को उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ स्थित अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्याल में हुई हिंसा की आग देखते ही देखते लखनऊ, कानपुर सहित राज्य के 22 जिलों में फैल गई।

READ:  Subodh Jaiswal becomes new director of CBI

उत्तर प्रदेश में हुई आगजनी, तोड़फोड़, पथराव, हिंसा और फायरिंग में अब तक 18 लोगों के मारे जाने की खबर है जबकि कई लोग घायल हैं। वहीं 288 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। इसमें से 61 पुलिसकर्मी फायर आर्म्स से घायल हुए हैं। पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, 213 एफआईआर की गई हैं। 925 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया गया है तो वहीं 5558 लोगों को हिरासत में लेकर निरोधात्मक कार्रवाई की गई है। प्रदेश में कुल 16,961 सोशल मीडिया पोस्ट ऐसे हैं जिनके खिलाफ पुलिस ने एक्शन लिया है।