शिवराज ने कहा- कांग्रेसी आएगा, दारू बांटेगा, कंबल बांटेगा बोलो- आप फंसोगे तो नहीं ? जनता ने दिया ये जवाब..

शिवराज ने कहा- कांग्रेसी आएगा, दारू बांटेगा, कंबल बांटेगा बोलो- आप फंसोगे तो नहीं ? जनता ने दिया ये जवाब..

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मध्य प्रदेश उपचुनाव की तारीख जैसे-जैसे नज़दीक आ रही है। वैसे-वैसे नेताओँ के बयान भी अजीब-ओ-ग़रीब होते जा रहे हैं। शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पोहरी, करैरा और मुरैना विधानसभा क्षेत्रों में चुनावी सभा कीं। पोहरी के आदिवासी बाहुल छर्च में उन्होंने कहा कि कांग्रेसी बड़े मायावी हैं। उनके पास ऐसे नेता हैं जो हर पार्टी में रह चुके हैं। लालच देंगे कि दारू ले लो, पैसा ले लो और पता नहीं कैसी-कैसी बातें करेंगे। एक कहानी सुनाता हूं। एक जंगल में साधु रहते थे, पक्षी भी बहुत थे। एक शिकारी की नजर पड़ गई।

ALSO READ:  मध्य प्रदेश उपचुनाव : शिवराज कैबिनेट बैठक में बड़ा फैसला, पटवारियों को दिए जाएंगे लैपटॉप..

Video: इमरती देवी ने कमलनाथ की माँ और बहन को कहा ‘आइटम’

शिकारी रोज आने लगा और दाने डालता, पक्षी दाना खाने बैठते तो शिकारी जाल फैलाकर पकड़ ले जाता। बाबा के मन में दर्द होता। एक दिन पक्षियों को बुलाया और कहा कि बचने के लिए मंत्र तुमको सिखाता हूं। तुम रट लो कि शिकारी आएगा, दाना डालेगा, जाल बिछाएगा और हम नहीं फंसेंगे। पक्षी गाने लगे। दूसरे दिन शिकारी आया तो पक्षी चिल्लाए तो शिकारी ने सोचा अब यहां दाल गलने वाली नहीं।

फिर भी उसने सोचा कि प्रयास करके देखते हैं और दाने निकाले डाल दिए। दाने देखकर पक्षी कहने लगे कि शिकारी आएगा, दाना डालेगा और हम नहीं फेंसेंगे…, ये कहते हुए दानों की तरफ बढ़ लिए और बैठ गए। तभी शिकारी ने जाल फैलाया, पक्षी फंसे और जाल उठाकर ले जाने लगा। पक्षी फडफ़ड़ाते हुए कहते रहे कि शिकारी आएगा, दाना डालेगा। मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि कांग्रेसी चुनाव में आएगा, दारू लाएगा, साड़ी बांटेगा, पायल बांटेगा, कंबल बांटेगा और जनता से पूछा कि बोलो- फंसोगे तो नहीं? लोगों ने जवाब में कहा- नहीं।

ALSO READ:  मध्य प्रदेश उपचुनाव से पहले शिवराज-सिंधिया को बड़ा झटका, 300 बीजेपी कार्यकर्ता कांग्रेस में शामिल

उपचुनाव में समाजवादी पार्टी की दस्तक, ये 14 उम्मीदवार बिगाड़ सकते हैं कांग्रेस-बीजेपी का ‘खेल’

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।