Kanpur : खिलौने वाली बंदूक से बॉस का किया अपहरण, फिरौती में वसूल लिए 15 लाख

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

उत्‍तर प्रदेश के कानपुर में कॉल सेंटर संचालक के अपहरण और फिरौती वसूली की वारदात का पुलिस ने खुलासा कर दिया है । पुलिस ने मामले में शामिल 4 बदमाशों को गिरफ्तार कर, उनके कब्‍जे से फिरौती में वसूले गए 15 लाख में 11 लाख रुपए बरामद कर लिए हैं। पुलिस को उनके पास से लूटा गया मोबाइल, लैपटॉप और अपहरण में प्रयोग की गई बोलैरो काम बरामद कर ली है।

कानपुर के किदवई नगर के एनएलसी कॉलोनी में रहने वाले अनुराग द्विवेदी का रतनलाल नगर में टेली कम्युनिकेशन कार्यालय है। अनुराग के मुताबिक, शुक्रवार रात वह दफ्तर में अपने तीन कर्मचारियों के साथ मौजूद थे। रात करीब 10.30 बजे एक बोलेरो से पांच नकाबपोश बदमाश असलहों के साथ घुस आए और मारपीट की। दफ्तर में रखे 15 से 20 हजार रुपये नकद और लैपटॉप लूट लिए ।

खिलौने की बंदूक से बदमाशों ने किया था अपहरण

पुलिस के अनुसार, इस पूरी वारदात का सूत्रधार कॉल सेंटर में काम करने वाला कर्मचारी था। जिसने खुद भी संचालक और अपने दो सहकर्मियों संग अपह्रत होने का नाटक किया। हैरानी की बात यह है कि खिलौने की बंदूक से बदमाशों ने अपहरण की वारदात को अंजाम दिया था। अपहरण के दौरान इन लोगों ने गन के रूप में सिगरेट लाइटर का प्रयोग किया था। जिसे अपह्रत लोगों ने असली असलहा समझ लिया था ।

इसके बाद, बदमाश उन्हें व सभी कर्मचारियों को कार में बैठाकर पनकी, फिर महाराजपुर क्षेत्र में ड्योढ़ी घाट के जंगलों में ले जाकर डंडे और बेल्ट से पीटने लगे। 15 लाख रुपये की फिरौती मांगी। अनुराग ने घर पर फोन करके 15 लाख रुपये मंगाए। जिसके बाद बदमाशों ने उसे व उसके साथियों को थोड़ी-2 दूरी के अंतराल पर छोड़ा। जिसके बाद उन्होंने मामले की जानकारी गोविंद नगर पुलिस को दी।

वारदात की जानकारी मिलने के बाद, पुलिस ने अनुराग और उनके कर्मचारी आशुतोष से पूछताछ की। पूछताछ के दौरान, पुलिस को आशुतोष की बातों पर शक हुआ। जिसके बाद, पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो वह टूट गया। उसने खुद ही पूरी साजिश रचने की बात कबूल कर ली। आशुतोष की निशानदेही पर पुलिस ने उसके तीन अन्य साथियों को भी धर दबोचा। पुलिस ने आरोपियों के कब्‍जे से बतौर फिरौती वसूले गए 15 लाख में से 11 लाख रुपए व ऑफिस से लूटे गया सामान बरामद कर लिया है।

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।