Home » Black Fungus in Bhopal: हमीदिया अस्पताल में पांच लोगों की ब्लैक फंगस से मौत

Black Fungus in Bhopal: हमीदिया अस्पताल में पांच लोगों की ब्लैक फंगस से मौत

Maharashtra: 10 newborns died in hospital fire in bhandara
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Black Fungus in Bhopal: ब्लैक फंगस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भी ब्लैक फंगस (Black Fungus in Bhopal) के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। वहीं प्रदेश में ब्लैक फंगस के ट्रीटमेंट में उपयोग होने वाला इंजेक्शन एंफोटरइसिन-बी ((Amphotericin-B Injection for Black Fungus)) की भारी कमी है। ब्लैक फंगस के चलते अब तक 19 लोगों की जान जा चुकी है।

Madhya Pradesh के 29 जिलों में फैला Black Fungus

Madhya Pradesh के 29 जिलों में म्युकरमाइकोसिस ( Black Fungus ) फैल चुका है। 841 मरीजों का इलाज चल रहा है। जिनमें 42 लोगों की जान भी जा चुकी है। वहीं Bhopal के हिमादिया अस्पताल में 5 लोगों की मौत हो चुकी है। पूरे प्रदेश में कुल 42 लोगों की मौत हो चुकी है।

Surgery होने के बाद भी नहीं बच सका मरीज

Bhopal के हिमादिया अस्पताल में 5 मरीजों की मौत हो गई। जिनमें से तीन मरीज कोरोना से जंग लडने के बाद Black Fungus के शिकार हो गए। एक मरीज ब्लैक फंगस की Surgery के बाद पोस्ट ऑपरेटिव वार्ड में भर्ती होने के बाद भी अपनी जान गवां बैठा।

READ:  मध्यप्रदेश में टीकाकरण की सफलता के पीछे है इन युवाओं का हाथ

घर पर ही संभव है कोरोना का इलाज, पर बरतें जरूरी सावधानियां

क्या है IDSP शाखा की रिपोर्ट

IDSP जो की स्वास्थ्य संचालनालय की ही शाखा है। उनके रिपोर्ट के मुताबिक , Madhya Pradesh के इंदौर और जबलपुर में 101, उज्जैन में 62 व ग्वालियर में 37 मरीज black fungus की बीमारी से जूझ रहे है।

Black Fungus की दवा राज्यों में नहीं

Bhopal में तेजी से फैल रहे ब्लैक फंगस से लोगों को बचाने के लिए injection एनफोटरेसिन बी की कमी है। Bhopal के 10 अस्पतालों ने स्वास्थ्य विभाग ( Health Department) से 2183 इंजेक्शन की मांग की है। वहीं हिमादिया को 375 injection ही मिले है। विभाग ने injection की जगह पोसाकोनाजोल दवा की 12 हजार टैबलेट मंगवा ली है।

Black Fungus Symptoms and Treatment: ब्लैक फंगस के लक्षण और उपचार

किन शहरों में है injection की कमी

भोपाल के 10 अस्पतालों ने 2183 injection की मांग की जिसमे उन्हें अबतक 383 injection ही मिले। 8 इंजेक्शन बंसल अस्पताल को दे दिए गए। वहीं जबलपुर के अस्पतालों में 112 मरीजों के लिए 594 injections की मांग की गई थी। अबतक प्रशासन ( Administration) ने 107 इंजेक्शन ही दिए।

READ:  Covishield vaccine approved in Britain : ब्रिटेन ने कोविशील्ड को दी मंजूरी, वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट को लेकर अभी भी फंसा दांव

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।