Home » HOME » बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद ने कबूला अपना जुर्म, धारा-376 सी, 354डी, 342, और 506 के तहत केस दर्ज

बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद ने कबूला अपना जुर्म, धारा-376 सी, 354डी, 342, और 506 के तहत केस दर्ज

Sharing is Important

बीजेपी नेता और पूर्व गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद को एसआईटी और यूपी पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. पूछताछ में स्वामी चिन्मानंद और छात्रों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है. जुर्म कबूल करने के बाद स्वामी ने कहा कि वह अपने किए पर शर्मिंदा हैं. इसके साथ ही पीड़िता भी जांच के दायरे में है. पूछताछ में छात्रा ने कबूला कि उसकी और युवकों की बात होती थी. वहीं स्वामी और छात्रा के बीच करीब 200 बार बातचीत हुई.

यह भी पढ़ें: कानपुर के इस हीरा कारोबारी ने डुबो दिए 14 बैंकों के 3635 करोड़ रुपये!

इसी मसले में यूपी की विशेष जांच दल (SIT) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. एसआईटी प्रमुख नवीन अरोड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि चिन्मयानंद ने सारे आरोप कबूल कर लिए हैं. वायरल हुए वीडियो में खुद चिन्मयानंद हैं, यह उन्होंने स्वीकार किया. जिसपर बिना देरी के शुक्रवार को सुबह गिरफ्तार किया गया. वीडियो और ऑडियो की बारीकी से जांच की गई. SIT चीफ के मुताबिक चिन्मयानंद ने उनसे कहा कि मैं गलती पर शर्मिंदा हूं.

READ:  अभिव्यक्ति की आज़ादी पर मंड़राते ख़तरे को पहचानना ज़रूरी…!

यह भी पढ़ें: योगी ने गिनाए ढाई साल में किये काम, अखिलेश ने कहा- मेरी योजनाओं का उद्घाटन कर लूटी वाहवाही

बता दें कि उत्तर प्रदेश की विशेष जांच दल (SIT) की टीम ने चिन्मयानंद को उनके आश्रम से शुक्रवार की सुबह करीब 8 बजकर 50 मिनट पर गिरफ्तार किया. जिसके बाद चिन्मयानंद को कोर्ट में पेश किया गया. इस बीच राज्य यूपी के डीजीपी ने कहा कि चिन्मयानंद से फिरौती मांगने की कोशिश के आरोप में 3 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है.

यह भी पढ़ें : एक कसाई जो लोगों के लिए डर का सबब था अब वो अपनी मौत के लिए दुआ करता है

बताते चले कि चिन्मयानंद के खिलाफ लॉ छात्रा ने 12 पन्नों की शिकायत की और SIT को दिए बयान में कई चौंका देने वाली बातें सामने आई. पीड़िता का कहना है कि चिन्मयानंद ने ब्लैकमेल कर रेप किया है. पीड़िता का हॉस्टल के बाथरूम में नहाने का वीडियो बनाया गया और उस वीडियो को वॉयरल करने की धमकी देकर एक साल तक रेप करता रहा. साथ ही पीड़िता ने बताया कि चिन्मयानंद ने शारीरिक शोषण का वीडियो भी बनाया है.

READ:  Most common passwords in world, These can be hacked easily

यह भी पढ़ें : ‘पहले मैंने अपने परिवार को मलबे से निकाला, फिर उनकी मय्यत पर रोई’.

स्थानीय अदालत ने स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ धारा 376 सी, 354डी, 342, और 506 के तहत केस दर्ज कर 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.