Home » Bihar Elections 2020: लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) की बिहार चुनाव में भूमिका

Bihar Elections 2020: लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) की बिहार चुनाव में भूमिका

Bihar Elections 2020, Lok Janshakti Party, LJP, Bihar, पिता जी चाहते थे कि पार्टी अकेले ही बिहार चुनाव में लड़े :चिराग पासवान
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Bihar Elections 2020: लोक जनशक्ति पार्टी (Lok Janshakti Prty, LJP) ने जब से बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) से अलग होकर अपने दम पर विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया है, तब से बिहार में सियासी कयासबाजी तेज हो गई है। कुछ लोग जानना चाहते हैं कि आखिर ऐसा क्यों तो कुछ ऐसे भी हैं जो ये जानना चाहता हैं कि बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) किस भूमिका में रहेगी।

Aman Shukla | New Delhi/Patna

राजनीति विश्लेषकों की माने तो महाराष्ट्र में चुनाव बाद शिवसेना के रुख से तो पूरा देश वाकिफ है इसी से सीख लेते हुए, बीजेपी नीतीश कुमार के सामने उसे दोहराने का विकल्प नहीं छोड़ना चाहती है। इसलिए उसने एलजेपी के कंधे पर बंदूक रखकर जेडीयू के खिलाफ मोर्चेबंदी कर दी है। जिससे चिट भी अपनी पट भी अपनी।

READ:  Complete Lockdown in Bihar: क्या खुला-क्या बंद रहेगा? देखें बिहार लॉकडाउन की गाइडलाइन

पिता जी चाहते थे कि पार्टी अकेले ही बिहार चुनाव में लड़े : चिराग पासवान

लेकिन कुछ अन्य राजनीतिक जानकारों की मानें तो चिराग पासवान के मन में भी राज्य की राजनीति करने का भाव पनप रहा है। वे युवा हैं और चुनाव में उनके पास खोने के लिए बहुत कुछ नहीं है। धारणा यह है कि चिराग के मुंह से अभी तक जो कुछ निकल रहा था, उसकी आपूर्ति भारतीय जनता पार्टी (BJP) की ओर से हो रही थी, लेकिन कुछ अपने मन से बोल गए तो बीजेपी भी पीछे हट गई। बिहार में विपक्ष की तरह चिराग को भी नीतीश कुमार पसंद नहीं हैं। लेकिन अब चिराग के नाते एनडीए अपना नेता तो बदलने से रही।

READ:  उत्तर प्रदेश में Coronavirus और Lockdown की बदहाली बताते-बताते कैमरे पर रो पड़ा रिपोर्टर

कुल मिलाकर बिहार चुनाव 2020 में लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) की भूमिका बेहद अहम होने वाली है चिराग की सोच यही होगी कि चुनाव में भारी मुनाफे के साथ किसी भी तरह सत्ता में आए और प्रदेश के मुखिया बनने का अपना सपना पूरा करें जोकि बिहार की मौजूदा सियासी हवा के हिसाब से बेहद कठिन है, या फिर चुनाव में कम से कम नुकसान उठाकर सत्ता के साथ जुडकर आगे की राजनीति करें। मतलब कि सत्ता में रहकर गठबंधन की राजनीति।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।