नीतीश से लेकर तेजस्वी, पप्पू यादव से लेकर पुष्पम प्रिया तक, बिहार चुनाव का पूरा गणित एक क्लिक में

Bihar Elections 2020: बिहार विधानसभा चुनाव: कोरोना वायरस के बीच बिहार में चुनावी माहौल गर्म है। चुनाव आयोग की घोषणा के बाद यहां तीन चरणों में चुनाव संपन्न होंगे। इसमें कई तरह के नियम और निर्देश जारी किए गए हैं। वहीं राजेडी-जेडीयू बीजेपी कांग्रेस लोजपा और पुष्पम प्रिया की प्लुरल्स पार्टी जैसे तमाम राजनैतिक दल बढ़ चढ़कर चुनावी सभाएं कर रहे हैं। चुनावी सभाओं में अब निजी बयानबाजी भी नजर आने लगी है। सभी दल जनता को लुभाने में लगे हैं।

कौन किस पार्टी से मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार
इस बार महागठबंधन से तेजस्वी यादव नेतृत्व कर रहे हैं तो एनडीए गठबंधन से नीतीश कुमार नेतृत्व कर रहे हैं वहीं सांसद चिराग पासवान ने घोषणा की है कि उनकी पार्टी लोजपा अकेले ही इस चुनाव में लड़ेगी। वहीं तीसरे मोर्चे के रूप में पीडीए गठबंधन है और उसका नेतृत्व कर रहे हैं राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव। जबकि 8 मार्च 2020 को द प्लुरल्स पार्टी की अध्यक्ष और मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार पुष्पम प्रिया चौधरी हैं।

बिहार ओपिनियन पोल: जानिए कौन बनाएगा बिहार में सरकार?

कौन क्या वादा कर रहा है
चुनावी मौसम में और कौन क्या वादा कर रहा है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार घोषणा की है कि हमारी सरकार ने अब तक बिहार में बहुत विकास किया है और हम अब आगे और भी विकास करेंगे। वहीं महागठबंधन की तरफ से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव ने ऐलान किया है कि अगर महागठबंधन की सरकार बनती है और वे मुख्यमंत्री बनते हैं तो पहली ही कैबिनेट बैठक में पहली कलम से 10 लाख बेरोजगारों को रोजगार दिया जाएगा। वहीं लोजपा 1 बिहार 1 बिहारी के नारे के साथ चुनावी मैदान में है ! वहीं बीजेपी ने तो कहा है कि उनकी सरकार आने पर गरीबों को फ्री में कोरोना वैक्सीन लगाया जाएगा।

Also Read:  BJP gears up for 2024 Lok Sabha elections

पप्पू यादव और पुष्पम प्रिया भी पीछे नहीं
वहीं दूसरी ओर पीडीए गठबंधन के पप्पू यादव बोल रहे हैं कि 30 साल बनाम 3 साल। अगर 3 साल में हम बिहार को बदल नहीं पाए इस्तीफा दे देंगे और ये बाद पप्पू यादव कोर्ट में लिखित रूप से दे रहे हैं। जबकि पुष्पम प्रिया चौधरी की बात करे तो उन्होंने कहा है कि 88 लाख नौकरी देने के वादे के साथ बिहार में अफसर शाही और बेरोजगारी, पलायन को पूरी तरह से बंद होगा साथ ही फैक्ट्री और कई कारखाने बिहार में लगाए जाएंगे।

Bihar Elections 2020: बिहार में लिंग आधारित हिंसा और महिलाएं

बिहार की 243 विधानसभा सीटों पर तीन चरणों में वोटिंग
राज्य की कुल 243 विधानसभा सीटों पर तीन चरणों में वोटिंग होगी। चुनाव आयोग के मुताबिक, पहले चरण में 28 अक्टूबर को 71 विधानसभा सीटों पर चुनाव होगा। जबकि दूसरे चरण के लिए 94 विधानसभा सीटों पर 3 नवंबर को मतदान होंगे। वहीं 7 नवंबर को 78 विधानसभा सीटों पर वोटिंग होगी। बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे 10 नवंबर को घोषित किए जाएंगे।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।