Home » ‘वोटकटवा’ कहने पर चिराग पासवान का बीजेपी को करारा जवाब!

‘वोटकटवा’ कहने पर चिराग पासवान का बीजेपी को करारा जवाब!

Bihar Elections 2020, Lok Janshakti Party, LJP, Bihar, पिता जी चाहते थे कि पार्टी अकेले ही बिहार चुनाव में लड़े :चिराग पासवान
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर बिहार में चुनावी माहौल काफ़ी है, जिसके कारण नेताओं में जुबानी जंग शुरू हो गई है, चिराग पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी ने विधानसभा चुनाव में अकेले उतरने का फैसला किया है, जिसके बाद से ही बीजेपी के केंद्र से लेकर बिहार तक के नेता ने एलजीपी के उम्मीदवारों को वोट कटवा कह कर संबोधित करने लगे, बदले में चिराग पासवान ने भी इस तंज का करारा जवाब दिया और कहा कि इस प्रकार की अशोभनीय भाषा बीजेपी के नेताओं को शोभा नहीं देती है|

यह भी पढ़े: लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) की बिहार चुनाव में भूमिका

चिराग ने पत्रकारों से कहा कि, बीजेपी एक ऐसे इंसान के ऊपर उंगली तान रही है, जिन्होंने उनका साथ 06 वर्षों तक दिया है, उन्होंने कहा कि चाहे 2014 का लोकसभा चुनाव हो या फिर 2019 का, रामविलास पासवान और लोक जनशक्ति पार्टी ने भाजपा के साथ मिलकर हर जंग जीती है, और और उन्होंने भाजपा को यह भी याद दिलाया कि जनशक्ति पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने भाजपा की सरकार बनाने के लिए कितनी मेहनत की है, वो आगे कहते हैं कि इस प्रकार के शब्दों की उम्मीद भाजपा के नेताओं से इसलिए नहीं थी क्योंकि अभी उनके पिता रामविलास पासवान के श्राद्ध का कार्यक्रम भी संपन्न नहीं हुआ था|

READ:  Kangana Ranaut के अलावा इन 5 हस्तियों का भी Twitter Account suspend हो चुका है

यह भी पढ़े: पिता जी चाहते थे कि पार्टी अकेले ही बिहार चुनाव में लड़े : चिराग पासवान

चुनावी माहौल के कारण इन दिनों चिराग पासवान ने भाजपा और खुद को लेकर कई ट्वीट किए जिसमें उन्होंने पीएम मोदी को टैग करके कहा, “मैं नहीं चाहता कि मेरी वजह से पीएम नरेंद्र मोदी किसी धर्म संकट में पड़े वह अपना गठबंधन धर्म निभाते रहे उन्हें मेरे खिलाफ जो कुछ भी कहना हो निसंकोच कहें|”

यह भी पढ़े: चुनाव चिन्ह कैसे किए जाते हैं आवंटित? समझें सारा गणित..

इससे पहले भाजपा नेता प्रकाश जावेडकर ने एलजीपी को वोट कटवा पार्टी बताते हुए कहा कि चिराग पासवान बीजेपी के नेताओं का नाम लेकर भ्रम पैदा कर रहे हैं, जिसके बाद से चिराग पासवान ने इन शब्दों को लेकर काफी निराशा जताई है|

READ:  Bangal Election 2021: ममता की जीत के बाद कैसा है सोशल मीडिया रिएक्शन, देखें किसने क्या कहा?

यह भी पढ़े: बिहार का ये ‘बाहुबली’ विधायक है 28,00,11,988 रुपये का आसामी

बिहार की 243 विधानसभा सीटों पर 3 चरणों में चुनाव पूर्ण होना है, 28 अक्टूबर, 03 और 07 नवंबर को मतदान होगा और 10 नवंबर को नतीजे घोषित किए जाएंगे, जब तक चुनाव के नतीजे घोषित नहीं होते हैं तब तक नेताओं में इस प्रकार की जुबानी जंग जारी रहेगी|

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।