Thu. Nov 14th, 2019

groundreport.in

News That Matters..

भाजपा ने बंद की गरीब और पिछड़ों की योजनाएं, फिर करेंगे लागू: हुड्डा

1 min read

ग्राउंड रिपोर्ट | हरियाणा

हरियाणा कांग्रेस विधायक दल के नेता और चुनाव संचालन समिति के अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री चौ. भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने आज कलानौर हलके के गांव सुनारिया में मौजूदा विधायक व कांग्रेस प्रत्याशी शकुंतला खटक के समर्थन में चुनाव प्रचार किया और जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि कलानौर हलके में शकुंतला खटक जी को दिया गया एक-एक वोट भूपेंद्र सिंह हुड्डा के खाते में जायेगा। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा सरकार पिछले 5 साल से स्वच्छ हरियाणा की बातें कर रही है, लेकिन एक भी सफाई कर्मचारी की भर्ती नहीं की। हमारी सरकार बनते ही एक कलम से 50,000 सफाई कर्मचारियों की भर्ती की जायेगी। जिसमें से 35000 सफाई कर्मचारी गांवों में और 15000 सफाई कर्मचारी शहरों में लगेंगे।

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार के समय गरीबों के लिये दाल-रोटी योजना शुरु की गयी थी। लेकिन भाजपा ने गरीबों के मुंह से निवाला छीन लिया और इस योजना को बंद कर दिया। इसी तरह हमारी सरकार के समय एससी वर्ग के 3 लाख 82 हजार गरीब परिवारों को अपना घर बनाने के लिये 100-100 गज के प्लॉट दिये गये थे। भाजपा ने उस योजना को भी बंद कर दिया। एससी वर्ग के बच्चों की पढ़ाई के लिये पहली जमात से छात्रवृत्ति देने की योेजना चलायी गयी और हरियाणा पहला ऐसा प्रदेश था जहां एससी वर्ग के बच्चों को स्कॉलरशिप दी जाती थी। भाजपा ने सत्ता में आते ही इस योजना को बंद कर ही दिया, बच्चों की स्कॉलरशिप के पैसे भी डकार गयी। उन्होंने भाजपा पर सीधा हमला करते हुए कहा कि इस सरकार ने गरीब, पिछड़े वर्ग की सारी योजनाएं बंद कर दीं। हमारी सरकार आते ही सारी योजनाएं दोबारा शुरु की जायेंगी। आपके दम और ताकत से ही हमने पहले सरकार बनायी थी। इस बार भी आपकी ताकत से चंडीगढ़ में सरकार बनायेंगे।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने 2005, 2009 में जो कहा वो किया और आगे फिर करेंगे। कांग्रेस की सरकार बनते ही 24 घंटे के अंदर किसान, भूमिहीन किसान का कर्जा माफ करेंगे। पहले दिन, पहले महीने से बुजुर्गों को 5100 रुपये हर महीने पेंशन देंगे। बुजुर्ग की 58 साल और महिलाओं की 55 साल करेंगे और पेंशन के लिये खाट पर बैंक नहीं जाना होगा। सरकार बनते ही बीपीएल परिवार के घर की महिला को चूल्हा खर्च के नाम पर 2000 रुपये हर महीने देंगे। हरियाणा रोडवेज में महिलाओं का कोई किराया नहीं लगेगा। गरीब आदमी को 100-100 गज के प्लॉट देंगे। सबको रोजगार देंगे और जब तक रोजगार नहीं मिलेगा तब तक बेरोजगारी भत्ता देंगे। पोस्ट ग्रेजुएट को 10,000 ग्रेजुएट को 7000 रुपया भत्ता देंगे। एससी वर्ग के बच्चों को पहली से 12वीं तक साल का 10,000 और 12वीं से ऊपर वाले बच्चों को साल का 15000 रुपये वजीफा देंगे। कर्मचारियों को पंजाब के समान वेतनमान और पुरानी पेंशन लागू करके देंगे, एचआरए का बकाया देंगे। कच्चे कर्मचारियों को पक्का करायेंगे।

उन्होंने भाजपा के घोषणा पत्र को झूठ का पुलिंदा बताते हुए कहा कि भाजपा ने 2014 में हरियाणा की जनता से 154 वादे किये थे लेकिन उनमें से एक भी पूरा नहीं किया। उन्होंने सीधा सवाल किया कि क्या हरियाणा के कर्मचारियों को पंजाब के समान वेतनमान दिया। किसानों को स्वामीनाथन का भाव दिया। युवाओं को वादे के मुताबिक रोजगार दे दिया, महिलाओं की सुरक्षा का वादा पूरा किया, नौकरियों में पारदर्शिता लाये? भाजपा पहले अपने पुराने वादों का हिसाब हरियाणा की जनता को दे।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश को हमने 2014 में प्रति व्यक्ति आय, प्रति व्यक्ति निवेश और विकास में नंबर 1 पर छोड़ा था वो आज अपराध में बेरोजगारी में नंबर 1 पर पहुंच गया है। कानून व्यवस्था इतनी खराब है कि रोज 3 कत्ल, 10 बलात्कार और 6 अपहरण होते हैं। आज हरियाणा गुंडे-बदमाशों की शरणस्थली बना हुआ है। चालान के नाम पर भाजपा सरकार ने नयी लूट योजना शुरु करी है। मोटरसायकिल 15 हजार की और चालान 50 हजार का। हरियाणा में बेरोजगारी की दर 28.7 प्रतिशत पूरे देश में सबसे ज्यादा है। छोटी-बड़ी फैक्ट्रियां बंद हो गयी, हरियाणा के लाखों लोग बेरोजगार हो गये। किसानों को उसकी मेहनत का दाम भी नहीं मिल रहा है। किसान को एमएसपी भी नहीं मिल रही है। कपास का सरकारी भाव 5500 है लेकिन किसान को 4800 ही मिल रहा है। इसी तरह धान, बाजरा गेंहू की एमएसपी तक नहीं मिल रही है। हमने गन्ने का भाव 110 से 310 किया था। भाजपा सरकार ने 5 साल में केवल 20 रुपये बढ़ाये। गरीब, पिछड़े वर्ग की सारी योजनाएं बंद कर दीं। हमारी सरकार आते ही सारी योजनाएं दोबारा शुरु की जायेंगी।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Copyright © All rights reserved. Newsphere by AF themes.