OTP चोरी की घटनाएं बढ़ी, कैसे रहें सावधान

ग्राउंड रिपोर्ट । न्यूज़ डेस्क

अगर आपको लगता है आपका बैंक एकाउंट OTP यानी वन टाइम पासवर्ड से सुरक्षित है, तो हम आपको बता दें कि महोदय अब आपका OTP ही सुरक्षित नहीं है। चोरों की नज़र सबसे सेफ समझे जाने वाले OTP पर पड़ भी चुकी है। और यह किया जा रहा है, आपका सिमकार्ड स्वैप करके यानी जिस सिम कार्ड पर आपके बैंक ट्रांज़ेक्शन के SMS आते हैं, वही खतरे में पड़ चुका है। आपका SIM कार्ड स्वैप करके चोर आपके फ़ोन पर आने वाले ज़रूरी SMS से आपके बैंक एकाउंट की जानकारी जुटाते हैं और फिर उस जानकारी से फ्रॉड को अंजाम देते हैं। आपकी मेहनत की कमाई पर कुछ इस तरह चोर हाथ साफ कर रहे हैं। जैसे-जैसे बैंक, कार्ड और इंटरनेट बैंकिंग को आपके लिए सुरक्षित करने की पुरजजोर कोशिश कर रहे हैं, वैसे ही चोर भी उन सभी सुरक्षा तकनीक का तोड़ ढूंढने में लगे हैं। आपके बैंक आपको कुछ इस तरह के MSG इन दिनों भेज रहे होंगे..

YES Bank द्वारा ग्राहक सुरक्षा के लिए भेजा गया संदेश

अब हम आपको बताते हैं सिम कार्ड फ्रॉड से बचने के तरीके..

1. बैंक में अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर की जांच करते रहें। अगर आपका नंबर बदल गया है तो तुरंत बैंक को जानकारी दें।

2. अगर आपके पास 1 से ज़्यादा एकाउंट हैं और सभी बैंक में अलग अलग फ़ोन नंबर रजिस्टर्ड हैं तो चेक करें सभी पर ट्रांसेक्शन के मैसेज आ रहे हैं या नहीं।

3. कहीं अचानक से आपके बैंक से SMS आना बंद तो नहीं हो गया। तुरंत बैंक को सूचित करें।

4. कहीं आपकी सिम कुछ दिनों से बंद तो नहीं। तुरंत मोबाइल ऑपरेटर को सूचित करें।

5. बार-बार अपना फोन नंबर न बदलें। फोन पर आने वाले बैंक SMS को नियमित रूप से पढ़ें।

आज के समय में आपका फोन आपके शरीर के एक अंग की तरह है, अपने फ़ोन को सुरक्षित रखें। फ़ोन को पासवर्ड से लॉक कर रखें। फोन चोरी हो जाने पर तुरंत FIR दर्ज करवाएं। और सिम कार्ड ब्लॉक करवा दें।